नई दिल्ली राजनीति

अबकी बार अमित शाह पहुंचे कोलकाता, क्या आज फिर दीदी से कहेंगे ‘जय श्री राम’

इंडिया समाचार 24
शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

नई दिल्ली। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह बंगाल में होने जा रहे विधानसभा चुनाव को देखते हुए ताबड़तोड़ दौरे कर रहे हैं । इन तीनों नेताओं ने पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को घेरने के लिए ‘जय श्री राम नारे’ को अपना सियासी एजेंडा बना लिया है । बंगाल विधानसभा चुनाव जीतने के लिए भाजपा केंद्रीय नेतृत्व ने पूरी ताकत झोंक रखी है । भाजपाई जान गए हैं कि दीदी जय श्री राम से बुरी तरह चिढ़ी हुईं हैं । पांच दिन पहले यानी 6 फरवरी को जेपी नड्डा कोलकाता जाकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से जय श्री राम बोल कर आए थे । उसके बाद 7 फरवरी को राजधानी दिल्ली से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल में जय श्री राम कहकर एक जनसभा को संबोधित किया । यही नहीं पीएम मोदी ने राज्य के लिए करोड़ों रुपए की विकास योजनाओं की घोषणा भी की थी । अब अमित शाह की बारी है । ‘कोलकाता पहुंचे गृहमंत्री क्या दीदी से जय श्रीराम कहेंगे’ ? वैसे यहां हम आपको बता दें कि शाह और ममता बनर्जी का एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम में आज शाम आमना-सामना भी होना है ।भारतीय जनता पार्टी आलाकमान से लेकर स्थानीय नेता तक दीदी से जय श्री राम खूब जोरदार तरीके से बोलने लगे हैं । ऐसा नहीं है कि ममता बनर्जी बीजेपी को जवाब नहीं दे रही है, वह भी ताबड़तोड़ हमले कर रहीं हैं । पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव इस साल अप्रैल-मई में हो सकते हैं। गृहमंत्री गुरुवार को कूचबिहार से बीजेपी की ‘परिवर्तन यात्रा’ के चौथे चरण की शुरुआत करेंगे। साथ ही एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। मालूम हो कि बीजेपी बंगाल की सभी 294 विधनसभा सीटों तक पहुंचने के लिए पांच चरणों में ‘परिवर्तन यात्रा’ निकाल रही है। आज अमित शाह एक परिवर्तन यात्रा को रवाना कर एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे ।

ठाकुरनगर में जनसभा कर ‘मतुआ समुदाय’ को रिझाएंगे अमित शाह—

आज अमित शाह पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के लिए बड़ी तैयारी के साथ आए हैं । बंगाल के भाजपा नेताओं ने कई दिनों से मतुआ समुदाय में अपनी पैठ बनानी शुरू कर दी । आज गृहमंत्री अपनी जनसभा के दौरान इस समुदाय के लिए कुछ बड़ी घोषणा भी कर सकते हैं । आइए आपको बताते हैं इस समुदाय का गढ़ कहां हैै । बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले के ठाकुर नगर में ‘मतुआ बाहुल्य माना जाता है’ ‌। अमित शाह यहीं ठाकुरबाड़ी मैदान में बड़ी जनसभा करेंगे । बता दें कि बंगाल में 70 से ज्यादा सीटों पर मतुआ समुदाय का प्रभाव माना जाता है। बांग्लादेश से आए इस समुदाय के लोग वर्षों से यहां शरणार्थी के रूप में रह रहे हैं । मतुआ समुदाय के लोग अपनी नागरिकता को लेकर बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। कोलकाता में शाम को एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ममता और अमित शाह का भी आमना-सामना होना है । अब देखना होगा इस दौरान दोनों के बीच अभिवादन किस प्रकार होता है ।‌ क्या ऐसे मौके पर अमित शाह दीदी से जय श्रीराम कहेंगे ? मालूम हो कि अमित शाह 30 जनवरी को कोलकाता आने वाले थे लेकिन ऐनमौके पर उनका दौरा टल गया था ।

भाजपा से नहीं डरूंगी जब तक जिंदा रहूंगी रॉयल बंगाल टाइगर की तरह रहूंगी—

बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के बीच कई दिनों से घमासान देखा जा रहा है । पीएम मोदी, अमित शाह और जेपी नड्डा के सियासी हमले के बाद भी दीदी मैदान में जुटी हुई हैं । मंगलवार को मुर्शिदाबाद जिले में एक रैली के दौरान ममता ने कहा कि ‘वह कमजोर नहीं हैं जो बीजेपी से डर जाएं, खुद को बंगाल टाइगर बताते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘जब तक जिंदा रहूंगी, रॉयल बंगाल टाइगर की तरह रहूंगी।’ ममता ने बीजेपी को बाहरी पार्टी बताते हुए बंगाल के लोगों से उसे विदाई देने को कहा। सीएम ममता ने कहा कि बीजेपी ने भारत को श्मशान बना दिया है, वे बंगाल को भी ऐसा ही बनाना चाहते हैं। हम ऐसा होने नहीं देंगे। आने वाले दिनों में मां, माटी, मानुष विजयी होगा। एक ओर बीजेपी परिवर्तन यात्रा निकाल रहे हैं। दूसरी ओर ममता बनर्जी भी एक के बाद धड़ाधड़ रैलियां कर बीजेपी को जवाब दे रही हैं । इस बीच ममता बनर्जी का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वह किसी बात पर भड़ास निकालते हुए ‘हंबा-हंबा, रंबा-रंबा, कम्मा-कम्मा’ बोलती दिख रही हैं। इस दौरान उन्होंने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। इसी रैली का एक क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है ।

Live TV

GMaxMart.com

Our Visitor

1247137
Hits Today : 1185