नई दिल्ली

पीएम मोदी विश्व में सबसे लोकप्रिय नेता, भाजपा में खुशियां तो विपक्ष में बेचैनी

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

नई दिल्ली। कोरोना की दूसरी लहर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विपक्ष के आरोपों से देश में घिरे हुए हैं। लेकिन अंतरराष्ट्रीय जगत में पीएम मोदी का डंका जोर-शोर से बज रहा है। महामारी की दूसरी लहर में भारत के हेल्थ सिस्टम को लेकर भले ही दुनिया ने केंद्र सरकार पर सवाल उठाए हों लेकिन प्रधानमंत्री मोदी की लोकप्रियता में कोई खास कमी नहीं आई है। बावजूद इसके वह दुनिया के शीर्ष नेताओं में आज भी सबसे आगे हैं। शुक्रवार को अमेरिका की एक सर्वे एजेंसी से आई खबर भाजपा खेमे में खुशियां बिखेर गईं। वहीं दूसरी ओर विपक्षी राजनीतिक दलों के कोरोना के इंतजामों को लेकर पीएम मोदी पर लगाए गए आरोपों पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया । ‘पीएम मोदी विश्व के नंबर-1 पॉपुलर नेता बने हुए हैं’।‌ बता दें कि अमेरिका की डेटा इंटेलिजेंस फर्म मॉर्निंग कंसल्ट ने एक सर्वे किया, जिसमें पता चला कि लोकप्रियता के मामले में पीएम नरेंद्र मोदी अभी भी दुनिया भर के दूसरे नेताओं से काफी आगे हैं। पीएम नरेंद्र मोदी की ग्लोबल अप्रूवल रेटिंग 66 फीसदी है। प्रधानमंत्री मोदी अमेरिका, रूस, ब्रिटेन, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस, ब्राजील और जर्मनी समेत 13 देशों के नेताओं से बेहतर हैं। हालांकि कोरोना वायरस की सेकेंड वेव में पीएम मोदी की अप्रूवल रेटिंग में थोड़ी गिरावट देखी गई, इसके बावजूद भी वह दुनिया भर में टॉप पर हैं। दूसरे नेताओं के मुकाबले उन्होंने बेहतर प्रदर्शन किया है। ग्लोबल अप्रूवल रेटिंग की लिस्ट में दूसरे नंबर पर इटली के प्रधानमंत्री मारियो ड्रैगी हैं, उनकी अप्रूवल रेटिंग 65 प्रतिशत है। वहीं तीसरे नंबर मैक्सिको के राष्ट्रपति लोपेज ओब्रेडोर हैं, उनकी रेटिंग 63 प्रतिशत है। अप्रूवल रेटिंग की लिस्ट में चौथे नंबर पर 54 फीसदी के साथ ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हैं। पांचवें पायदान पर 53 प्रतिशत के साथ जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल हैं। वहीं छठे नंबर पर 53 फीसदी के साथ अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन हैं। उल्लेखनीय है कि मॉर्निंग कंसल्ट पॉलिटिकल इंटेलिजेंस अमेरिका, भारत, फ्रांस, जापान, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, ब्राजील, जर्मनी, इटली, जापान, मेक्सिको, दक्षिण कोरिया, स्पेन और ब्रिटेन के नेताओं की अप्रूवल रेटिंग ट्रैक करता है। पीएम मोदी की अप्रूवल रेटिंग में सुधार का श्रेय 7 जून को उनके उस भाषण को दिया जा सकता है जिसमें उन्होंने कई बड़ी घोषणाएं की थीं। मालूम हो कि कोविड-19 की पहली और दूसरी लहर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार राष्ट्र को संबोधित करते आ रहे हैं । संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री हर एक बार देशवासियों को इस महामारी से बचने और सतर्क रहने की अपील करते रहे हैं।

Live TV

GMaxMart.com

Our Visitor

1209305
Hits Today : 346