देश-दुनिया

गर्मी से कराह उठे कई शक्तिशाली देश, अमेरिका में 81 साल का तोड़ा रिकॉर्ड

मौजूदा समय में भले ही हमारे देश में मानसून का सीजन चल रहा है। लेकिन भारत की गर्मी भी लोगों के पसीने छुड़ा देती है। इस साल भले ही गर्मी ने अपने तेवर ज्यादा न दिखाए हों लेकिन इन दिनों कई शक्तिशाली देश गर्मी से कराह उठे हैं। आज हम बात करेंगे विदेशों में पड़ने वाली गर्मी की। दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका पिछले कई दिनों से गर्म मौसम से परेशान है। अमेरिका में इन दिनों रिकॉर्डतोड़ गर्मी पड़ रही है। कई इलाकों में दिन का तापमान 44 डिग्री तक पहुंच गया तो मौसम विभाग ने इसे खतरनाक और असामान्य बताया है। पोर्टलैंड के ऑरेगॉन में तो रविवार को पारा 44.4 डिग्री तक पहुंच गया। यह इतिहास का सबसे गर्म दिन है। 1940 में रिकॉर्ड रखने की शुरुआत हुई, तबसे लेकर अब तक यह सर्वाधिक है। सिएटल में भी तापमान 40 डिग्री तक पहुंच गया। अमेरिका की नेशनल वेदर सर्विस ने कहा कि हमारे जलवायु रिकॉर्ड में पहली बार दो दिनों तक लगातार इतना तापमान दर्ज हुआ है। इतनी ज्यादा गर्मी से अमेरिकी ओलिंपिक गेम्स के ट्रैक और फील्ड ट्रायल में परेशानी आ रही थी। ओरेगॉन के यूगीन में इन ट्रायल्स को रोकना पड़ा और तेज गर्मी के चलते प्रशंसकों से स्टेडियम खाली करने को कहा गया। अमेरिकी मौसम विभाग ने कहा कि अच्छी बारिश की पहचान वाले शहर यह असहनीय था। इसके अलावा 1894 में रिकॉर्ड रखे जाने के बाद से यह पहली बार था जब क्षेत्र में लगातार दो दिन इतना ज्यादा पारा दर्ज किया गया। स्थिति यह है कि बाजारों में पोर्टेबल एसी और पंखों की बिक्री बढ़ गई है। अस्पतालों ने आउटडोर वैक्सीन सेंटर बंद कर दिए हैं। वॉशिंगटन के कूलिंग सेंटरों में लोगों की सीमा खत्म कर दी गई है। उत्तरी सिएटल में होटल मालिकों ने बताया कि होटलों के सारे कमरे बुक हो गए हैं। उधर यूरोप के फ्रांस, स्पेन,पुर्तगाल में लोगों को हलकान कर चुकी लू अब ब्रिटेन की ओर बढ़ रही है। ऐसे ही यूएई, कुवैत और सऊदी अरब में भी मौसम गर्म बना हुआ है।

Live TV

GMaxMart.com

Our Visitor

1258167
Hits Today : 3220