आगरा उत्तर प्रदेश स्वास्थ्य

जिला क्षय रोग केंद्र में लगाया गया विशेष शिविर, टीबी ग्रसित मजदूरों के बनाए गए लेबर कार्ड

आगरा जिला क्षय रोग केंद्र में सोमवार को टीबी ग्रसित मजदूरों के लेबर कार्ड बनवाने के लिए विशेष शिविर
का आयोजन हुआ. इसमें टीबी रोगियों के लेबर कार्ड बनाए गए. इस दौरान जिला क्षय रोग अधिकारी
डॉ. यूबी सिंह उपस्थित रहे.

डीटीओ ने बताया कि जिले में टीबी ग्रसित मजदूरों को श्रम विभाग से लाभ दिलाने की तैयारी है ।
इसके लिए ऐसे मजदूरों को चिन्हित करते हुए उनके लेबर कार्ड बनाये जा रहे हैं. मजदूरों का टीबी के
बारे में संवेदीकरण भी किया जा रहा है।
शिविर में आज लगभग 20 मरीज मजदूरों के कार्ड बनवाए गए। सीएमओ डा. अरुण कुमार श्रीवास्तव ने मजदूरों के लिए की गई इस पहल को काफी पसंद किया गया और क्षय रोगियों के हित में एक सराहनीय कार्य बताया।
श्रम प्रवर्तन अधिकारी( एलईओ ) सुप्रिया द्विवेदी ने बताया कि श्रम विभाग भी क्षय रोग विभाग के साथ मिलकर टीबी मुक्त भारत बनाने की दिशा में सहयोग करेगा। इसके तहत श्रम विभाग की ओर टीबी मरीजों के लिए लेबर कार्ड बनाने के लिए शिविर लगाए जाएंगे।

जिला पीपीएम समन्वयक कमल सिंह ने बताया कि कार्ड दो प्रकार के होते हैं ।
जिसमें भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकल्याण बोर्ड व उत्तर प्रदेश राज्य सामाजिक सुरक्षा बोर्ड है। इसमें निर्माणधीन स्थल पर काम करने वाले मजदूरों के पास प्रमाण पत्र होना जरूरी है। जहां काम किया। वहां का मोबाइल नंबर देना होता है।
पंजीकरण के लिए बैंक की पासबुक, आधार कार्ड व एक फोटो कापी की जरूरत होती है। उत्तर प्रदेश राज्य सामाजिक सुरक्षा बोर्ड के लिए आवेदकों के लिए राशन कार्ड भी देना होगा। इस मौके पर उप जिला क्षय रोग अधिकारी डा मनीष कुमार गुप्ता,कमल सिंह, अरविन्द कुमार डिस्ट्रिक्ट पीपीएम कोऑर्डिनेटर पंकज सिंह, शशिकांत पोरवाल, डिस्ट्रिक्ट टीएचआईवी कोऑर्डिनेटर,अखिलेश शिरोमणि डिस्ट्रिक प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर मौजूद रहे।

इस कार्ड के बनने के बाद मजदूर निम्न सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं।
भवन एवं सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड यह देगा लाभ
-शिशु हित लाभ योजना
-मातृत्व हितलाभ योजना
-बालिका मदद योजना
-संत रविदास शिक्षा सहायता छात्रवृत्ति योजना
-मेधावी छात्र पुरस्कार योजना
-कन्या विवाह सहायता योजना
-गंभीर बीमारी सहायता योजना
-निर्माण कामगार मृत्यु, विकलांगता सहायता अक्षमता पेंशन योजना
-कामगार अंतेष्ठि सहायता योजना
-महात्मा गांधी पेंशन योजना
-आवास सहायता योजना
-चिकित्सा सहायता योजना
—————–
——————
टीबी से बचाव के तरीके
– दो हफ्ते से ज्यादा खांसी होने पर डॉक्टर को दिखाएं। दवा का पूरा कोर्स लें। डॉक्टर से बिना पूछे
दवा बंद न करें।
-मास्क पहनें या हर बार खांसने या छींकने से पहले मुंह को पेपर नैपकिन से कवर करें।
-मरीज किसी एक प्लास्टिक बैग में थूके और उसमें फिनाइल डालकर अच्छी तरह बंद कर डस्टबिन
में डाल दें। यहां-वहां नहीं थूकें।
-मरीज हवादार और अच्छी रोशनी वाले कमरे में रहे। साथ ही एसी से परहेज करें।
– पौष्टिक खाना खाएं , एक्सरसाइज व योग करें।
– बीड़ी, सिगरेट, हुक्का, तंबाकू, शराब आदि से परहेज करें।
– भीड़-भाड़ वाली और दूषित जगहों पर जाने से बचें।

Live TV

GMaxMart.com

Our Visitor

1252505
Hits Today : 4328