उत्तर प्रदेश लखनऊ

अंत्योदय पर अमल का डिजिटल अभियान

डॉ दिलीप अग्निहोत्री

लखनऊ। प्रखर राष्ट्रवादी चिंतक दीनदयाल उपाध्याय ने अंत्योदय का विचार दिया था। इसके अंतर्गत समाज के गरीब व वंचित वर्ग को विकास की मुख्यधारा में शामिल करना था। केंद्र व उत्तर प्रदेश की वर्तमान सरकार इसी भावना से कार्य कर रही है। इसके अनुरूप गरीबों के कल्याण हेतु अनेक योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। इसके सकारात्मक व अभूतपूर्व परिणाम दिखाई दे रहे है। करोड़ों की संख्या में गरीबों तक सीधा लाभ पहुंच रहा है। myGov पोर्टल के सात वर्ष पूर्ण होने के पर भारत सरकार के सहयोग से up.mygov.in 
पोर्टल का शुभारम्भ किया गया। इससे प्रदेश भी केन्द्र सरकार के पोर्टल से जुड़ गया है। यह पोर्टल पं दीन दयाल उपाध्याय की अंत्योदय की भावना के अनुसार अंतिम पायदान के व्यक्ति तक शासन की विभिन्न योजनाओं का लाभ पहुंचाने में सहायक होगा। इससे राज्य सरकार को जनता के सुझावों को जानने, सहयोग प्राप्त करने तथा इनोवेशन को आगे बढ़ाने में भी मदद मिलेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने  up.mygov.in पोर्टल का शुभारम्भ किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने तकनीक के माध्यम से लोकतंत्र की भावनाओं को साकार करने के लिए जो कार्य प्रारम्भ किये थे। उसने सुशासन का लक्ष्य प्राप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका भी निभायी। यह पोर्टल लोकतंत्र की भावना के अनुरूप विभिन्न योजनाओं में जनभागीदारी, जनता के सुझावों को जोड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। कोरोना काल में तकनीक जनता को शासन की विभिन्न योजनाओं का प्रभावी एवं पारदर्शी ढंग से लाभ पहुंचाने में सहायक सिद्ध हुई है। राज्य सरकार ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत खाद्यान्न वितरण को ई-पॉस मशीनों से जोड़ा। इससे न केवल पहले से अधिक संख्या में जरुरतमन्द लोगों को खाद्यान्न उपलब्ध कराने में मदद मिली। पारदर्शी ढंग से खाद्यान्न वितरण के कारण राज्य सरकार को बारह सौ करोड़ रुपये प्रतिवर्ष बचत भी हो रही है। योगी आदित्यनाथ ने विश्वास जताया कि myGov का यूपी चैप्टर भी myGov की तर्ज पर अपनी बेहतर सेवाओं के लिए जाना जाएगा।

Live TV

GMaxMart.com

Our Visitor

1247137
Hits Today : 1188