आगरा उत्तर प्रदेश स्वास्थ्य

आगरा में बढ़ रहा वायु प्रदूषण का स्तर-मास्क पहनें और कोरोना व वायु प्रदूषण से सुरक्षित रहें

आगरा जनपद में वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ने लगा है। दिवाली पर इसके और बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। इससे बचने के लिए ट्रिपल लेयर मास्क का उपयोग करें। इससे कोरोना वायरस के संक्रमण और वायु प्रदूषण दोनों से रक्षा होगी।

बच्चों और सांस संबंधी रोगियों को वायु प्रदूषण से अधिक नुकसान हो सकता है। इससे फेफड़ों में संक्रमण हो सकता है। एलर्जी से जुकाम और सर्दी हो सकती है। सरोजनी नायडू मेडिकल कॉलेज के चेस्ट (वक्ष) एवं क्षय रोग विभाग के अध्यक्ष डॉ. संतोष कुमार ने बताया कि बीते कुछ दिनों से शहर में वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ रहा है। इस कारण इन दिनों फेंफड़ों संबधी रोगियों की संख्या बढ़ी है। उन्होंने कहा कि दिवाली पर वायु प्रदूषण बढ़ सकता है, इसलिए सभी लोग ट्रिपल लेयर मास्क पहनें। इससे कोरोना वायरस और वायु प्रदूषण दोनों से बचाव हो सकेगा। मास्क आपको धूल, धुआं और कोविड संक्रमण से बचाएगा।

डॉ. संतोष ने बताया कि जिनके घरों में सांस रोगी हैं, वह घर की सफाई धीरे-धीरे करें, सफाई करते वक्त ट्रिपल लेयर मास्क पहनें। उन्होंने कहा कि जो मरीज फेंफड़ों संबधी रोगों की दवाएं खा रहें हैं, वह अपनी दवाओं को समय से लें, इसमें लापरवाही न करें। इसके साथ ही जो लोग इन्हेलर लेते हैं, वह इसकी डोज डॉक्टर से पूछकर बढ़ा लें। इससे त्योहार के अवसर पर सेहत से जुड़ी परेशानी होने से बचा जा सकता है।

पटाखे चलाते वक्त सेनिटाइजर दूर रखें
कोरोना काल में हमने हर सामान को सैनिटाइज करने की आदत डाल ली है लेकिन आतिशबाजी से पहले पटाखों और अपने हाथ को सैनिटाइज करने से बचें। आतिशबाजी से पूर्व साबुन से हाथ धोएं न कि सैनिटाइजर का उपयोग करें। सैनिटाइजर एक ज्वलनशील सामग्री है और इसस आग लगने और बढ़ने का सदैव खतरा रहता है।

वायु प्रदूषण से बचने के लिए यह करें
• ट्रिपल लेयर मास्क लगाकर ही बाहर निकलें
• आवश्यक हो तभी बाहर निकलें
• इनहेलर साथ लेकर बाहर निकलें
• बंद कमरे में ज्यादा देर नहीं रहें
• प्राणायाम, डीप ब्रीदिंग अभ्यास करें
• खाने में मसाले का उपयोग कम करें
• समस्या होने पर स्वास्थ्य केंद्र पर संपर्क करें

Live TV

GMaxMart.com

Our Visitor

1321632
Hits Today : 941