आगरा उत्तर प्रदेश स्वास्थ्य

प्रसव पूर्व जांच का दायरा बढ़ाने के सीएमओ ने दिए निर्देश, प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस पर स्वास्थ्य विभाग का रहेगा फोकस

आगरा जनपद में मंगलवार (नौ नवम्बर) को आयोजित होने वाले प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस पर प्रसव पूर्व जांच पर सबसे ज्यादा फोकस रहेगा | सीएमओ डा.अरूण कुमार श्रीवास्तव ने सभी चिकित्सा अधिकारियों व प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को गर्भवती की गुणवत्तापूर्ण प्रसव पूर्व जाँच (एएनसी) के दायरे को बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। इस बीच सभी गंभीर रूप से खून की कमी (सीवियर एनीमिक) वाली महिलाओं को विधिवत आयरन सुक्रोज इंजेक्शन दिलाने पर जोर रहेगा ।
सीएमओ ने चिकित्स अधिकारियों को भेजे पत्र में कहा है कि प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के अंतर्गत सभी गर्भवती का एएनसी चेक किया जाए। अभियान के अंतर्गत सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर कार्यरत चिकित्सक की ड्यूटी लगाकर एएनसी की जांच शत-प्रतिशत कराना सुनिश्चित करें। संंबंधित चिकित्सालय पर कोई जांच उपलब्ध नहीं है तो उच्च स्तरीय ईकाई पर भेजने के लिए कहा गया है। सीएमओ ने ब्लाक की क्षेत्रीय आशा कार्यकर्ताओं को प्रसव पूर्व जांच पर जोर देने के लिए निर्देशित किया है । जिला मातृत्व स्वास्थ्य परामर्शदाता संगीता भारती ने बताया कि गर्भवती को परामर्श के लिए अलग काउंटर बनाए जाएगा। जहां पर काउंसलर और स्टाफ नर्स व एएनएम की ड्यूटी लगाई जाएगी।

गर्भवती का खाता खुलवाने को लगेगा काउंटर
-स्वास्थ्य विभाग ने बैंक से समन्वय बनाकर प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस पर बैंक काउंटर खुलवाने के निर्देश दिए हैं ताकि गर्भवती का बैंक खाता खुलवाया जा सके । सीएमओ ने पत्र में कहा कि उच्च जोखिम गर्भावस्था (एचआरपी) वाली महिलाओं के चिन्हीकरण का काम लक्ष्य के अनुसार करें। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस के अंतर्गत कम से कम 100 गर्भवती को लाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

जोखिमयुक्त महिलाएं होंगी चिन्हित
=नेशनल हेल्थ मिशन के नोडल अधिकारी डा.संजीव वर्मन ने बताया कि गर्भवती का एमसीपी कार्ड एवं एएनसी भरा जाएगा। जोखिमयुक्त महिलाओं को चिन्हित कर लाल रंग की एआरपी की मुहर उसके एमसीपी कार्ड पर लगाई जाएगी।

Live TV

GMaxMart.com

Our Visitor

1321634
Hits Today : 948