आगरा उत्तर प्रदेश स्वास्थ्य

सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी ने झुग्गी झोपड़ियों के लोगों की भ्रांतियों को दूर कर किया वैक्सीनेशन

आगरा कोरोना से बचाव के लिए गरीब तबके को वैक्सीनेशन कराना सबसे बड़ी चुनौती थी। तमाम तरह की भ्रांतियों के चलते लोग टीकाकरण कराने को तैयार नहीं थे। ऐसे समय में कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर डा.हरविंदर सिंह आगे आए। उन्होंने झुग्गी झोपड़ी में जाकर गरीब तबके के लोगों की भ्रांतियों को दूर किया। उनसे अपनत्व वाला व्यवहार कर टीकाकरण कराने के लिए राजी कर लिया। अपनी अनोखी कार्यशैली के चलते वह खूब चर्चित हैं। अभी तक वह नौ सौ से अधिक लोगों को वैक्सीन लगवा चुके हैं।
एक ऐसा भी समय था, जब लोगों में वैक्सीनेशन को लेकर तमाम तरह की भ्रांतियां थी। इस बीच क्राई संस्था के वैक्सीन मित्र और चाइल्ड राइट एक्टिविस्ट नरेश पारस के अनुरोध पर सबसे पहले कालिंदी विहार कांशीराम आवास योजना के मजदूर लोगों के लिए वैक्सीनेशन शिविर लगाया गया। जिसमें डा. हरविंदर सिंह अपनी टीम के साथ वैक्सीन लगाने के लिए पहुंचे। शिविर के दौरान टीका लगवाने के लिए लोग डर रहे थे। कोई वैक्सीनेशन के लिए राजी नहीं हो रहा था, तब डा.हरविंदर और नरेश ने समझाया। हरविंदर के जागरूक करने में अपनापन था, जिसके बाद एक व्यक्ति वैक्सीन लगवाने को लेकर तैयार हो गया। उस व्यक्ति का उदाहरण देकर डा.हरविंदर ने वैक्सीनेशन कराने के लिए दूसरे लोगों को राजी कर लिया।
डा. हरविंदर सिंह ने मलिन बस्ती के लोगों को वैक्सीनेट करने की ठान ली। वह अब तक 1500 से अधिक लोगों को विशेष शिविर लगाकर वैक्सीनेट कर चुके हैं।
-‐———————
जहां घुसने से लोग कतराते, वहां डा.हरविंदर ने संभाला मोर्चा
=झुग्गी झोपड़ियों में वैक्सीनेशन करने की राह इतनी आसान नहीं है। झुग्गी झोपड़ियों में जहां गंदगी का ढेर लगा रहता है। बैठने को जगह नहीं है। इन बस्तियों में लोग घुसने से पहले नाक पर रुमाल रख लेते हैं। यहां वैक्सीनेशन करना बड़ा चुनौती से कम नहीं था। कोविड से खतरे से अंजान लोगों के बीच जाकर डा.हरविंदर ने मोर्चा संभाला। उन्होंने लोगों को जागरूक किया और वैक्सीनेशन का काम शुरू किया।
————————-
भिक्षा मांगने वाले और नींबू-मिर्च वालों को लगाया टीका
=कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर डा.हरविंदर ने मलिन बस्ती को जीत का टीका लगाने का पूरी तरह से ठान लिया। वह भिक्षा मांगने वालों और नींबू-मिर्च बेचने वालों को टीका लगवाएं। क्योंकि, कहीं न कहीं भिक्षा मांगने वाले पैर छूने से दूसरे को भी संक्रमित कर सकते हैं। ऐसे लोगों को वैक्सीनेट करने का काम हरविंद कर रहे हैं। उन्हें मास्क और हैंडवॉश करने के टिप्स देते हैं।
—–‐——————-
1500 लोगों को करा चुके टीकाकरण
=आगरा में उनकी मेहनत साफ नजर आ रही। गरीब तबके के 1500 लोगों को टीकाकरण करा चुके हैं। मथुरा निवासी डा.हरविंदर सिंह कहते हैं कि पहली बार इन जगहों पर शिविर लगाने में कुछ अटपटा जरूर लगा था, लेकिन अब इन लोगों की सेवा करने पर सुकून मिलता है। अब खुला आसमान हो या पेड़ के नीचे बैठकर वैक्सीन लगवानी हो, डा. हरेंद्र वैक्सीनेशन तैयार रहते हैं। इनके साथ अब अन्य सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.रमाकांत सिंह और डॉ.नरोत्तम लाल भी आगे आए हैं। वह आधार कार्ड से सत्यापन करते हैं। अब टीका रथ के माध्यम से नरेश पारस से समन्वय स्थापित करके झुग्गी झोपड़ी तथा मलिन बस्ती के लोगों को कोविड से बचाव का टीका लगा रहे हैं।
‐‐——————–
इन मलिन बस्तियों में टीकाकरण किया
-कांशीराम आवास योजना-2
-मेहताब बाग, मारवाड़ी बस्ती-2
-राज नगर लोहामंडी
-पंचकुइयां, डीआईओएस झुग्गी झोपड़ी
-लाल किला के सामने झुग्गी झोपड़ी
-पंचकुइयां कब्रिस्तान
-जेपी नगर खंदारी
-अशोक नगर पंचकुइयां

Live TV

GMaxMart.com

Our Visitor

1351328
Hits Today : 5525