आगरा उत्तर प्रदेश स्वास्थ्य

फिर शुरू हो गया कायाकल्प का असेसमेंट -जनपद की पीएचसी व सीएचसी पर कायाकल्प की टीम कर रही निरीक्षण

आगर। आगरा में बीते दिनों कई प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों (सीएचसी) को कायाकल्प अवॉर्ड मिल चुका है। अब नए वित्त वर्ष के लिए कायाकल्प की टीम ने असेसमेंट करना शुरू कर दिया है। इसमें स्टेट टीम के द्वारा जनपद की पीएचसी व सीएचसी का असेसमेंट करके और मूल्यांकन किया जा रहा है।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अरुण श्रीवास्तव ने बताया कि जनपद में अब तक बिचपुरी व बरौली अहीर सीएचसी का स्टेट टीम द्वारा असेसमेंट किया जा चुका है। अन्य सीएचसी व पीएचसी में भी कायाकल्प की टीम द्वारा मूल्यांकन कर अंक दिए जाएंगे। कायाकल्प अवार्ड योजना के अंतर्गत टीम द्वारा अस्पताल परिसर के प्रत्येक डिपार्टमेंट को चेक किया गया। जिसमें हॉस्पिटल अपकीप, सेनिटेशन और हाईजीन, सपोर्ट सर्विस, वेस्ट मैनेजमेंट, इन्फेक्शन कंट्रोल, हाईजीन प्रमोशन, इको फ्रेंडली फैसिलिटी पर थीमेटिक एरिया के मानकों पर मूल्यांकन किया गया। टीम द्वारा रजिस्ट्रेशन रूम, कैंपस, हर्बल गार्डन, बीएमडब्ल्यू रूम, रेन वाटर हार्वेस्टिंग, पार्किंग, वर्मी कंपोस्ट, फार्मेसी, लैब, ओपीडी, कोरिडोर, लेबर रूम, वार्ड किचन, मीटिंग हॉल, छत, टंकी, ओटी, माइनर ओटी, कोल्ड चैन, वैक्सीनेशन रूम, आईसी का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान स्टेट टीम में स्टेट कंसलटेंट क्वालिटी एश्योरेंस आस मोहम्मद, जिला सलाहकार क्यू•ऐ डॉक्टर रबीश कुमार सिंह, डॉ. सरताज, चिकित्सा अधीक्षक डॉ. कृष्ण कुमार, डॉ. राम विपुल शर्मा और बीपीएम लोकेंद्र तिवारी मौजूद रहे।

क्या है कायाकल्प अवॉर्ड
मरीजों को बेहतर सुविधा प्रदान करने वाली चिकित्सा इकाइयों को कायाकल्प से सम्मानित किया जाता है। आंतरिक व बाह्य मूल्यांकन में बेहतर प्रदर्शन करने वालों का चयन अवार्ड के लिए किया जाता है। इसमें साफ-सफाई, अभिलेखों का रखरखाव, दवा आदि का प्रबंधन, बायोवेस्ट मैनेजमेंट, इंफेक्शन से बचाव जैसे बिदु शामिल होते हैं।

Live TV

GMaxMart.com

Our Visitor

1351319
Hits Today : 5395