image

आराध्य अंतराष्ट्रीय चित्रकला प्रदर्शनी, रंग बिरंगे फूलों की खूबसूरती ने युवाओं को खूब आकर्षित किया

धर्मेंद्र सिंह

आगरा। आराध्य अंतराष्ट्रीय चित्रकला प्रदर्शनी के  चौथे और अंतिम दिन भी कला शौकीनों का आगमन जारी रहा। प्रदर्शिनी के समापन समारोह की अध्यक्षता आगरा कॉलेज आगरा के प्राचार्य अनुराग शुक्ला ने की। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में राज्य महिला आयोग की सदस्य निर्मला दीक्षित ने शिरकत की। उन्होंने कला की महत्ता, संयोजिका डा सुनीता यादव के प्रयास की सराहना करते हुए नारी शक्ति की महत्ता, कॉलेज की छात्रा लीना कुमारी द्वारा बनाए योगी के पोर्ट्रेट की सजीवता और ले कर्नल करमजीत सिंह की पेंटिंग आदि का जिक्र किया। जहां एक और आगरा कॉलेज आगरा के चित्रकला विभाग की वरिष्ठ शिक्षिका मनीषा दोहरे के ग्राफिक्स "साउंड ऑफ साइलेंस एंड सेल्फ रियलाइजेशन" ने दर्शकों को जीवन का एक अलग रंग दिखाया। वहीं अलीगढ़ से आई आर्टिस्ट बरखा के रंग बिरंगे फूलों की खूबसूरती ने युवाओं को खूब आकर्षित किया।वहीं बैकुंठी देवी गर्ल्स कॉलेज के चित्रकला विभाग की विभाग अध्यक्षा बिंदु अवस्थी के जल चित्र "ट्रांसपेरेंसी" ने आधुनिक चित्रकला की तकनीकी को दिखलाया।हरियाणा से आए आर्टिस्ट लक्ष्य सिंघल ने पेंसिल कलर से शेर के बालों को इतनी नजाकता से पेपर पर उभारा कि मानो शेर की फोटो प्रति हो।मुस्लिम कॉलेज बदायूं की वरिष्ठ शिक्षिका और आर्टिस्ट डा आभा ने संयोजिका के प्रयास को सहारते हुए कहा कि इस तरह के बड़े प्रयास से प्रदेश में चित्रकला का और अधिक प्रभाव बढ़ेगा। उनकी कृति कृष्ण ने भी लोगों को खूब सम्मोहित किया। ललित कला संस्थान के शिक्षक  डॉशार्दुल मिश्र की कृति ने कला कृतियों में छुपे तकनीकी बारीकियों को कला छात्रों को समझाया। उन्होंने बताया कि हर कृति अपने अंदर  एक कहानी को कहती है। वहीं रश्मि सक्सेना नेअपनी पेंटिंग में जीवन चरित्र को उभार के रख दिया।अनंता शांडिल्य की "अर्चना" ने शिव के नंदी को बड़ी खूबसूरती से दिखाया। कलाकार सादाराम जी द्वारा बनाई गई कृति ने सबका मन मोह लिया।अलीगढ़ की वरिष्ठ शिक्षिका एवं आर्टिस्ट नीलम मोहन एवं अनुपम राघव ने अलीगढ़ से आकर अपनी पेंटिंग की बारीकियों से कॉलेज के छात्रों को रूबरू कराया।रश्मि सक्सेना, मेरठ की श्रुति यादव के राधा कृष्ण की कृति, उदयपुर से आए वरिष्ठ कलाकार सुबोध रंजन के ग्राम दृश्य ने भी लोगों को खूब आकर्षित किया।चित्रों की खरीदारी के लिए भी कला प्रेमी लोगों ने इंटरेस्ट दिखाएं।प्रदर्शनी की संयोजिका डॉ सुनीता यादव ने बताया डॉ.अनुसूया सिंह जी इस प्रदर्शनी की वजह से होस्टन टैक्सास यूएसए से इंडिया आई।कई लोगों ने यह इंटरेस्ट दिखाया कि ऐसे  प्रोग्राम जल्दी-जल्दी कराए जाएं। आज की प्रदर्शिनी में दिनेश कुमार मौर्य, रश्मि शर्मा, ईशु यादव, गोविंदराम आदि आर्टिस्ट लोगों ने अपनी उपस्थिति  दर्ज कराई।संयोजिका डॉ सुनीता यादव ने कहा कि इस तरह के और भी आयोजन किए जा सकते हैं यदि कोई सरकार से ग्रांट  मिले |
    जो कलाकारों के उत्साहवर्धन के लिए बहुत आवश्यक है। समापन समारोह में 10 सर्वश्रेष्ठ कृतियों को "कला रत्न" से नबाजा गया। जिसमे कर्नल करमजीत सिंह, रेखा कक्कड़, मनीषा दोहरे, हरियाणा के विवेक रंगा, कीर्ति, दिनेश कुमार मौर्य, रेनू यादव, दिनेश कुमार, मेरठ की श्रुति यादव, उदयपुर के सुबोध रंजन को कला रत्न अवार्ड से चुना गया वही अरहत प्रताप सिंह, जन्मिजय शर्मा तथा आराध्य आशीष को "कला श्री" अवार्ड से नवाजा गया। मंच का संचालन श्री अनुराग पालीवाल, स्वागत भाषण तथा धन्यवाद ज्ञापन श्री शीती कंठ दुबे ने किया। प्राचार्य ने संस्कृत में मंत्रोचारण से अपने वक्तव्य का शुभारंभ किया और सभी कलाकारों के प्रयास को सराहा। उन्होंने कला के विभिन्न समयकालों और विकास क्रम को वर्णित किया और ये भी बताया कि आगरा कॉलेज आगे भी इसी तरह के और भव्य कार्यक्रमों को आयोजित करेगा। कार्यक्रम में पत्रकार राजीव दधीचि, शिक्षक आशीष तेजस्वी, अमित पालीवाल, मनीषा दोहरे, रेखा कक्कड़ आदि मौजूद रहे।

Post Views : 499

यह भी पढ़ें

Breaking News!!