image

PFI के ठिकानों पर NIA और ED की बड़ी कार्रवाई, केंद्रीय गृह मंत्री ने की उच्च स्तरीय बैठक

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज देशभर में PFI के ठिकानों पर हुई कार्रवाई के संबंध में उच्च स्तरीय बैठक बुलाई। इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) के महानिदेशक दिनकर गुप्ता शामिल हुए।

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज देशभर में PFI के ठिकानों पर हुई कार्रवाई के संबंध में उच्च स्तरीय बैठक बुलाई। इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल, केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) के महानिदेशक दिनकर गुप्ता शामिल हुए। बैठक में PFI से जुड़े परिसरों की तलाशी और आतंकी संदिग्धों के खिलाफ कार्रवाई पर चर्चा की गई। एक अधिकारी ने बताया कि अमित शाह ने देश भर में PFI के कार्यकर्ताओं और संदिग्धों के खिलाफ की गई कार्रवाई का जायजा लिया।

11 राज्यों में छापेमारी

बता दें कि देशभर में टेरर फंडिंग मामले में NIA के नेतृत्व में 11 राज्यों में PFI के ठिकानों पर छापेमारी की कार्रवाई की गई। छापेमारी में PFI के 106 कार्यकर्ताओं को देश में आतंकी गतिविधियों का कथित रूप से समर्थन करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। NIA, ED और राज्य पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा किए गए कई छापे में केरल से 22, कर्नाटक से 20, महाराष्ट्र से 20, आंध्र प्रदेश से 5, असम से 9, दिल्ली से 3, मध्य प्रदेश से 4, पुडुचेरी से 3, राजस्थान से 2, तमिलनाडु से 10 और उत्तर प्रदेश से 8 लोगों की गिरफ्तारी हुई है।

 

jagran

आतंकी गतिविधि के खिलाफ कार्रवाई

अधिकारियों ने कहा कि आतंकी फंडिंग, प्रशिक्षण शिविर आयोजित करने और प्रतिबंधित संगठनों में शामिल होने के लिए कई स्थानों पर तलाशी ली जा रही है। PFI की राष्ट्रीय कार्यकारी परिषद ने NIA-ED द्वारा देशभर में की गई कार्रवाई की निंदा की है। उन्होंने कहा कि नेताओं की गिरफ्तारी और उत्पीड़न एवं संगठन के सदस्यों और समर्थकों के खिलाफ कार्रवाई गलत है। उन्होंने कहा कि NIA के निराधार दावे के पीछे आतंक का माहौल बनाना है।

 

यह भी पढ़ें

Breaking News!!