image

सजा सियाराम दरबार, राजा जनक ने दी बड़हार की दावत..

आगरा

आगरा। जनकपुरी महोत्सव के तीसरे दिन शुक्रवार को दयालबाग स्थित बीएम फार्म हाउस पर राजा जनक आलोक अग्रवाल और रानी सुनयना श्रीमती आरती अग्रवाल ने अयोध्या और मिथिला नगरी वासियों सहित सभी बरातियों और घरातियों को बड़हार की भव्य दावत दी। सजन गोट में स्वर्ण और रजत बर्तनों में सम्मानित लोगों को प्रसादी वितरित की गई।

       इस दौरान सुसज्जित मंच पर जब भगवान राम, लक्ष्मण, भरत, शत्रुघ्न और माता जानकी के स्वरूप विराजमान हुए तो ऐसा लगा मानो वहाँ साक्षात सियाराम दरबार सजा हो। 

    पांचों स्वरूपों की आरती सर्वप्रथम भागवताचार्य सुभाष चंद्र शास्त्री गोवर्धन वालों द्वारा की गई। फिर राजा जनक आलोक अग्रवाल और रानी सुनयना श्रीमती आरती अग्रवाल ने अपने परिवारी जनों और मिथिला नगरी वासियों सहित भगवान की आरती उतारी। श्री रामचंद्र कृपालु भजमन के बोलों पर सब लोगों की अनुरक्ति भगवान राम के चरणों में लग गई। सिया पति राम भी मंद मंद मुस्कुराते हुए भक्तों पर स्नेह की कृपा बरसाते रहे। 

    समारोह में ब्रज मंडल के कलाकारों ने बृज वंदना, मयूर नृत्य, चरी नृत्य, डांडिया रास, जौहर नृत्य, चरकुला नृत्य, ब्रज की होली, शिव-पार्वती का नृत्य और उड़ते हुए हनुमान जी की झाँकी सहित विभिन्न मनोहारी सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से सबको मंत्रमुग्ध कर दिया। 

    कपिल कौशिक, दीपक शर्मा, गोपाल मुद्गल, प्रदीप शर्मा और विष्णु शास्त्री के इन भजनों पर सब भाव विभोर हो गए। बोल थे- "सजा दो घर को फूलों से, मेरे घर राम आए हैं" और "प्यारौ सुंदर सजौ है दरबार कि दर्शन कर लेओ जी.."

    

*समस्त देवी देवताओं का किया पूजन, माँ को भी किया नमन..*

बीएम फार्म हाउस पर बड़हार की दावत से पूर्व आचार्य पंडित सुभाष चंद शास्त्री के निर्देशन में राजा जनक और उनके परिवारी जनों ने गणेश पूजन के साथ-साथ समस्त देवी-देवताओं का पूजन किया। साथ ही पितृपक्ष में पितरों का पूजन भी किया। 

    इस अवसर पर राजा जनक आलोक अग्रवाल ने अपनी माता जी स्वर्गीय श्रीमती उषा देवी जी की तस्वीर पर को जी भर निहारा और नम आँखों से उन्हें याद करते हुए नमन किया। भावभीनी श्रद्धांजलि दी और माता जानकी के पिता बनने का सौभाग्य प्रदान करने के लिए हृदय से आभार व्यक्त किया।

 

*हुई मिलनी की रस्म..*

राजा जनक ने गुरु वशिष्ठ और राजा दशरथ को दुशाला उड़ाकर मिलनी की रस्म अदा की। साथ ही, भगवान के चारों स्वरूपों का टीका करके उनको नारियल का गोला भेंट किया। रानी सुनयना ने माता जानकी को स्नेह और ममता स्वरूप चुनरी भेंट की।

 

*यह रहे प्रमुख रूप से शामिल..*

बीएम फार्म हाउस पर इस दौरान रामलीला कमेटी के अध्यक्ष और लोकप्रिय विधायक पुरुषोत्तम खंडेलवाल, मंत्री राजीव अग्रवाल, अतुल बंसल, संजय तिवारी, राहुल गौतम, आनंद मंगल, मनोज हौजरी, प्रसून मंगल, राजा जनक के पिता मुरारी लाल अग्रवाल, भाई डॉ. आशीष अग्रवाल, अमित अग्रवाल, अलका अग्रवाल, गुंजन अग्रवाल, और सुपुत्र कुशाग्र और कार्तिक के साथ श्री जनकपुरी महोत्सव समिति के अध्यक्ष सुरेश चंद गर्ग (तपन ग्रुप), संयोजक भरत शर्मा, महामंत्री मनोज अग्रवाल अछनेरा वाले और राजीव जैसवाल प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें

Breaking News!!