image

गुजरात-हिमाचल में क्यों OPS चाहती है कांग्रेस, प्रियंका गांधी ने बताया

कांग्रेस ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश और गुजरात विधानसभा चुनाव के बाद पार्टी की सरकार बनने पर पुरानी पेंशन योजना लागू की जाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि क्यों उनकी पार्टी इसे लागू करना चाहती है।

कांग्रेस ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश और गुजरात विधानसभा चुनाव के बाद पार्टी की सरकार बनने पर पुरानी पेंशन योजना लागू की जाएगी। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को फेसबुक पोस्ट में कहा कि पेंशन ,देश सेवा करने वाले हर सरकारी कर्मचारी का बुढ़ापे का सहारा है। पेंशन पाना हर सरकारी कर्मचारी का हक है जिसे भाजपा सरकार उनसे छीन रही है लेकिन कांग्रेस की सरकार बनी तो पेंशन योजना को लागू किया जाएगा।
  
प्रियंका गांधी ने कहा, ''पेंशन कर्मचारियों का हक, कांग्रेस बहाल करेगी पुरानी पेंशन स्कीम। पुरानी पेंशन को खत्म कर भाजपा ने देश के बुजुर्गों से उनकी आर्थिक सुरक्षा छीन ली। जो देशवासी जीवन भर देश की सेवा करते हैं, आखिर बुढ़ापे में वे कहां जाएं। अपना गुजर-बसर कैसे करें। जब कोई व्यक्ति सरकारी नौकरी में जाता है तो सोचता है कि जब वह रिटायर होगा तो उसे आर्थिक असुरक्षा का सामना नहीं करना पड़ेगा। पेंशन से उसका भरण-पोषण चलता रहेगा लेकिन भाजपा सर्फि छीनना जानती है। हमारे जो सैनिक अपनी जान हथेली पर लेकर सरहदों पर देश की रक्षा करते हैं, उनकी भी आर्थिक सुरक्षा एक-एक करके छीनी जा रही है।''
    
कांग्रेस नेता ने काह कि उनकी पार्टी मानती है कि देश के निर्माण में अपना योगदान देने वाले कर्मचारियों को पेंशन मिलनी चाहिए, ताकि वे बुढ़ापे में आत्म​नर्भिर रह सकें। यह हर कर्मचारी का हक है। इसी को ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ और राजस्थान की कांग्रेस सरकारों ने पुरानी पेंशन स्कीम लागू कर दी। उन्होंने कहा कि पार्टी का संकल्प है कि हिमाचल प्रदेश और गुजरात में भी सरकार बनते ही पुरानी पेंशन स्कीम लागू की जाएगी। 

यह भी पढ़ें

Breaking News!!