image

‘ये चोर हैं, जिन्होंने देश को बेच दिया’, गुजरात में रवि किशन ने विपक्षी दलों पर साधा निशाना

गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी पूरी ताकत के साथ चुनाव प्रचार कर रही है. पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्रियों और मुख्यमंत्रियों समेत बीजेपी के राष्ट्रीय नेताओं ने शुक्रवार को 89 निर्वाचन क्षेत्रों में से 40 में सीटों पर जनसभाएं की हैं.

गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने अपने प्रचार अभियान को तेज कर दिया है. भोजपुरी फिल्मों के जाने-मानेअभिनेता और गोरखपुर से सांसद रवि किशन भी चुनाव प्रचार को लेकर गुजरात पहुंचे हैं. इस दौरान रवि किशन ने एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए विपक्षी दलों को चोर कहा. साथ ही बीजेपी उम्मीदवार के पक्ष में ज्यादा से ज्यादा वोट करने की अपील की. बता दें कि गुजरात में विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग एक और पांच दिसंबर को होनी है.

गुजरात विधानसभा चुनाव में नेताओं के आरोप-प्रत्यारोप के बीच अब रैप सॉन्ग्स की भी एंट्री हो गई है। हाल ही में बिहार की सिंगर नेहा सिंह राठौर ने 'गुजरात मा का बा' रैप सॉन्ग गाया था। इसके जवाब में गोरखपुर से भाजपा सांसद का 'गुजरात मा मोदी छे' रैप सॉन्ग गाया है। आज इस गाने को सोशल मीडिया पर रिलीज कर दिया गया। गाने के जरिए उन्होंने विपक्षी दलों के नेताओं को भी जवाब दिया है, जिसमें वे 'गुजरात में क्या है' कहकर भाजपा सरकार को घेर रहे हैं।

लांच होने के पहले ही दिन मिलियंस व्यूज मिले थे
सॉन्ग के लिए जारी किए पोस्टर में सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा दिख रही है। साथ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गुजरात के वर्तमान मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल की भी तस्वीर है। रवि किशन के प्रशंसकों को उम्मीद है कि यह गाना गुजरात में रह रहे उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों की जुबान पर चढ़ जाएगा, क्योंकि लांच होने के पहले ही दिन सोशल मीडिया पर इसे मिलियंस में व्यूज मिले थे।

सॉन्ग में पीएम की ईमानदारी और गुजरात का विकास
इस रैप सॉन्ग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ईमानदारी, भ्रष्टाचार-परिवारवाद के खिलाफ उनकी नीति के साथ गुजरात के विकास, गांधी, सरदार पटेल की विरासत, सोमनाथ, द्वारिका आदि का भी जिक्र है। बता दें, इससे पहले उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के लिए भी रवि किशन ने भोजपुरी रैप सॉन्ग गाया था, जो जबर्दस्त तरीके से पॉपुलर हुआ था।

1 और 5 दिसंबर को होगा मतदान
राज्य में पहले चरण की वोटिंग 1 दिसंबर को होगी, जबकि दूसरे चरण की वोटिंग 5 दिसंबर को होगी। वहीं, दोनों चरणों की मतगणना 8 दिसंबर को होगी। पहले चरण की वोटिंग प्रक्रिया के लिए गजट नोटिफिकेशन 5 नवंबर को और दूसरे चरण की वोटिंग प्रक्रिया के लिए 10 नवंबर को जारी हुआ था। स्क्रूटनी पहले चरण के लिए 15 नवंबर को होगी, जबकि दूसरे चरण के लिए 18 नवंबर की तारीख तय है। नाम वापसी की अंतिम तारीख पहले चरण के लिए 17 नवंबर और दूसरे चरण के लिए 21 नवंबर निर्धारित की गई है।

यह भी पढ़ें

Breaking News!!