image

संघ की संकल्प शक्ति 

कौशल किशोर

सीतापुर। अगर व्यक्ति का उद्देश्य श्रेष्ठ है। अपने उद्देश्य लक्ष्य के प्रति व्यक्ति संकल्पित है, तो व निश्चित ताैर पर अपने लक्ष्य को प्राप्त कर लता है। यह उदाहरण डाक्टर केशव बलिराम हेडेगवार ने करके दिखाया। यह बात राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अवध प्रांत प्रचारक कौशल ने शिवाजी शाखा के वार्षिकोत्सव को संबोधित करते हुए गुरुकृपा गेस्ट हाउस, सीतापुर में कही। उन्होंने कहा डाक्टर साहब की आर्थिक स्थित ठीक नहीं थी। आर्थिक स्थिति ठीक नहीं और संकल्प भारत के हिंदू समाज को एकत्र करना। यह करने के लिए संघ की स्थापना की। राजा साहब ने पूछा इस कार्य को करने के लिए पैसे की जरूरत होती है, कहां से लाओगे। तो डाक्टर साहब ने कहा यह गुरु दक्षिणा से आएगा। गुरु दक्षिणा कितनी हुई चाैरासी रुपया अट्ठासी पैसा। इतने में पूरे भारत में संगठन कैसे खड़ा हो जाएगा। प्रवास के लिए, कार्यक्रम आदि के लिए धन की आवश्यकता होगी। आप ऐसा करो मुझसे धन ले लो। आप काम करो कार्य विस्तार करो। डाक्टर साहब ने कहा मुझे संगठन के लिए धन की नहीं आप की जरूरत है। उनका उद्देश्य श्रेष्ठ था इसलिए लक्ष्य पूरा हुआ। संगठन 15 वर्षों में 1940 तक पूरे भारत में फैल गया। जब 1940 में संघ शिक्षा वर्ग लगा तो सभी प्रदेशों के स्वयंसेवक शामिल हुए। 1940 तक कोई भी ऐसा नहीं था जो संघ को जानता न हो। संघ को जानने समझने के लिए लोगों में जिज्ञासा होने लगी। 1934 नौ वर्ष के संगठन का शिक्षा वर्ग वर्धा में लगा था। उसमें महात्मा गांधी आए। वह हरिजन सेवा बस्ती में काम कर रहे थे। उन्होंने सोचा कि संघ में छुआछूत तो नहीं है इस बात को जानने के लिए वह वर्ग में आए थे। डाक्टर साहब उस समय वहां नहीं थे, जब वापस आए तो पता चला कि गांधी जी आए थे। वह उनसे मिलने गए, कई घंटे तक बातचीत हुई। डा. भीमराव अंबेडकर भी संघ के शिक्षा वर्ग में आए। उन्होंने भी संघ के कार्यों की सराहना की। आज संघ का यह स्वरूप पहुंचा है। शाखा के वार्षिकोत्सव में सभी आए अच्छा लगा। स्वयंसेवकों का उद्देश्य होना चाहिए भले ही सभी शाखा में न आ सकें लेकिन हम अपने क्षेत्र के प्रत्येक घर से अपना संपर्क रखेंगे। कार्यक्रम के पश्चात् सरस्वती शिशु मंदिर में वृक्षारोपण किया गया। इस मौके पर नगर संघ चालक विनय, कार्यक्रम अध्यक्ष समाजसेवी अंब्रीश सिन्हा, विभाग प्रचारक बैरिस्टर, विभाग कार्यवाह कृष्ण कुमार, जिला प्रचारक उपेंद्र, नगर प्रचारक कमलेश, मुख्य शिक्षक संतोष, जिलाध्यक्ष भारत तिब्बत सहयोग मंच एड. प्रभात अग्निहोत्री, उदित, नत्थू लाल, सहित अन्य स्वयंसेवक उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें

Breaking News!!