image

वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की जीत से शुरुआत, अफ्रीका को 7 विकेट से रौंदा

अंडर-19 वूमेन्स वर्ल्ड कप में टीम इंडिया ने शानदार शुरुआत करते हुए साउथ अफ्रीका को सात विकेट से मात दी. 167 रनों के टारगेट को भारतीय टीम ने 21 गेंद बाकी रहते हासिल कर लिया. भारत की ओर से श्वेता सेहरावत ने नाबाद 92 रन बनाए. वहीं कप्तान शेफाली वर्मा के बल्ले से 45 रन निकले.

आईसीसी अंडर-19 वूमेन्स वर्ल्ड कप 2023 में भारतीय टीम ने शानदार शुरुआत की है. शनिवार (14 जनवरी) को बेनोनी में खेले गए मुकाबले में भारतीय महिला टीम ने मेजबान साउथ अफ्रीका को सात विकेट से रौंद दिया. भारतीय टीम की जीत में कप्तान शेफाली वर्मा और ओपनर श्वेता सेहरावत ने अहम भूमिका निभाई. भारतीय टीम ग्रुप-डी के अपने अगले मुकाबले में 16 जनवरी को यूएई का सामना करेगी.

मुकाबले में 167 रनों के टारगेट का पीछा करते हुए भारतीय टीम को शेफाली वर्मा और श्वेता सेहरावत ने धमाकेदार शुरुआत दिलाई. दोनों ने पहले विकेट के लिए 7.1 ओवरों में ही 77 रनों की साझेदारी कर डाली. शेफाली ने 16 गेंदों पर 45 रन बनाए जिसमें 9 चौके और एक छक्का शामिल था. शेफाली को मियाने स्मिट ने ई. रेंसबर्ग के हाथों कैच आउट कराया. इसके बाद श्वेता सेहरावत ने जी. तृषा और सौम्या तिवारी के साथ उपयोगी पार्टनरशिप करके भारतीय टीम को 21 बॉल बाकी रहते जीत दिला दी. श्वेता सेहरावत ने 57 गेंदों का सामना करते हुए नाबाद 92 रन बनाए, जिसमें 20 चौके शामिल थे.

                                                   

लॉरेंस ने अफ्रीकी टीम के लिए जड़ा था अर्धशतक

टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने उतरी साउथ अफ्रीकी टीम की शुरुआत काफी धमाकेदार रही थी और चार ओवरों के अंदर ही उसने 56 रन बना दिए थे. सोनम यादव ने रेंसबर्ग को आउट करके इस पार्टनरशिप को तोड़ा. रेंसबर्ग ने 13 गेंदों का सामना करते हुए 23 रन बनाए. इसके बाद कप्तान ओलुहले सियो बिना खाता खोले शेफाली वर्मा की गेंद पर बोल्ड हो गईं.

लगातार दो विकेट गिरने से साउथ अफ्रीकी टीम मोमेंटम गंवा बैठीं. जिसका नतीजा ये हुआ कि 20 ओवर खेलने के बावजूद वह पांच विकेट के नुकसान पर 166 रन ही बना सकी. ओपनर सिमोन लॉरेंस ने 44 गेंदों में 9 चौके और एक छक्के की मदद से 61 रनों की शानदार पारी खेली. वहीं मेडिसन लैंड्समेन ने 17 गेंदों पर 32 रन बनाए जिसमें पांच चौके और एक छक्का शामिल था. के मैसो 19 और मियानो स्मिट 16 रन बनाकर नाबाद रहीं. भारत की ओर से कप्तान शेफाली वर्मा ने सबसे ज्यादा दो विकेट चटाए.

सचिन ने की आईसीसी की तारीफ

उधर सचिन तेंदुलकर ने भी आईसीसी की ओर से वूमेन्स अंडर-19 वर्ल्ड कप शुरू करने के फैसले को सराहा है. सचिन ने कहा, 'मैं कहूंगा कि भारत की महिला टीम में इस बार बेहतरीन टीम में से एक होने की काबिलियत है. टीम में बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों विभागों में कुछ अनुभवी खिलाड़ियों और कुछ युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ियों का अच्छा संतुलन है. अंडर-19 महिला टूर्नामेंट पहली बार हो रहा है जिससे काफी उम्मीदें हैं. मुझे लगता है कि यह परिदृश्य बदल सकता है क्योंकि एक वैश्विक मंच से युवा महिला क्रिकेटरों को काफी कुछ सीखने को मिलेगा.'

तेंदुलकर ने आगे बताया, 'महिला क्रिकेट ने हालांकि काफी प्रगति कर ली है, लेकिन कुछ क्षेत्रों में अभी भी विकास किया जाना बाकी है. इस समय दुनिया भर में और अधिक मजबूत प्रणाली की जरूरत है. हम जितना बेस बढ़ाएंगे, उतनी ही ज्यादा प्रतिभा खोज पाएंगे. अंडर-19 वूमेन्स वर्ल्ड कप 2023 में 16 टीमें हिस्सा ले रही हैं और कुल 41 मैच खेले जाने हैं.

 

यह भी पढ़ें

Breaking News!!