image

इंदौरा में राहुल गांधी बोले- हिमाचल के लोगों का चरित्र पहाड़ की तरह मजबूत, शांत भी

मलौट में जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कन्याकुमारी से हिमाचल पहुंचा हूं। हर प्रदेश की कोई न कोई पहचान होती है। हर राज्य अलग है।

कांग्रेस पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा बुधवार को हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिला के इंदौरा क्षेत्र के मानसर टोल प्लाजा से मलोट गांव तक करीब 24 किलोमीटर का सफर तय करने के बाद शाम को जम्मू-कश्मीर रवाना हुई। मलौट में जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कन्याकुमारी से हिमाचल पहुंचा हूं। हर प्रदेश की कोई न कोई पहचान होती है। हर राज्य अलग है। राहुल ने कहा, यात्रा के दौरान जब वह कांग्रेस के नेताओं के साथ चाय पी रहे थे तो उनसे पूछा कि हिमाचल पहाड़ों का प्रदेश है लेकिन यहां चलना आसान है। हिमाचल प्रदेश की जनता में शांति है। यहां के लोग ज्यादा बोलते नहीं,  प्यार से मिलते हैं। यह मुझे सुबह यात्रा के दौरान देखने को मिला। जैसे ये पहाड़ हैं, वैसे ही आपका चरित्र है। मजबूत है, लेकिन शांति भी है। राहुल ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा की जरूरत क्यों पड़ी? देश में हिंसा, नफरत, डर का माहौल है।



एक धर्म को दूसरे धर्म, एक जाति को दूसरी जाति,भाई को भाई  से लड़ाया जा रहा है। जनता के मुद्दे जब भी संसद में उठाते हैं तो बोलने नहीं दिया जाता, माइक बंद कर दिया जाता है। गलत जीएसटी, बेरोजगारी अग्निवीर, किसानों के मुद्दे उठाने की कोशिश की, लेकिन रास्ता नहीं निकला। इस नफरत के माहौल को मिटाने, बेरोजगारी के खिलाफ और मजदूरों का दर्द समझने के लिए सड़कों पर उतरे। कन्याकुमारी से भारत जोड़ो यात्रा शुरू की। जनसभा के दौरान राहुल ने सीएम सुखविंद्र सिंह सुक्खू की जमकर तारीफ की। उन्होंने सीएम को मंच से सुक्खू भाई संबोधित किया। कहा कि इनमें कोई अहंकार नहीं, लोगों की बात प्यार से सुनते हैं। लोगों की बात सुनते हुए डरते नहीं। नए सीएम जमीन से जुड़े आदमी हैं। उनका हिमाचल की जनता से अच्छा लगाव हैं। मुझे विश्वास है कि सरकार अच्छा काम करेगी। राहुल ने कहा कि यह यात्रा कश्मीर तक जाएगी। कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक करीब 3,800 किलोमीटर की यात्रा है। यात्रा के दौरान कभी भी थकान महसूस नहीं हुई। 

सुधीर शर्मा भी हुए भारत जोड़ो यात्रा में शामिल
 धर्मशाला से कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा भी बुधवार को भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुए। मंत्रिमंडल विस्तार में अनदेखी के बाद पूर्व मंत्री विदेश चले गए थे। सुधीर शर्मा का जिला कांगड़ा से प्रदेश मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले विधायकों में सबसे पहला नाम चल रहा था। बावजूद इसके उन्हें मंत्री पद नहीं मिला। सात जनवरी को सुधीर शर्मा को मंत्री बनाने के लिए शिमला भी बुलाया गया था। देर रात को सुधीर का नाम मंत्रियों की सूची से कट गया। नाराज होकर आठ जनवरी की सुबह सुधीर राजभवन में हुए शपथ ग्रहण समारोह में भी नहीं गए थे। इन्होंने शिमला से धर्मशाला की राह पकड़ ली थी। नौ जनवरी को सुधीर शर्मा विदेश चले गए थे। गत मंगलवार रात को सुधीर शर्मा विदेश से लौटे। बुधवार सुबह इंदौरा पहुंचकर भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुए।

मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री ने राहुल गांधी का किया स्वागत 
इससे पहले पंजाब-हिमाचल सीमा पर घटोता से भारत जोड़ो यात्रा शुरू हुई। सुबह 7:00 बजे हिमाचल कांग्रेस ने छोटी जनसभा रखी। मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष प्रतिभा सिंह, उपमुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री और अन्य पार्टी नेताओं ने राहुल गांधी का स्वागत कर उन्हें सम्मानित किया। सभी ने राहुल गांधी का यात्रा को हिमाचल से जोड़ने पर धन्यवाद किया। हिमाचल में यात्रा के शुभारंभ के साथ राहुल गांधी ने मोदी सरकार और आरएसएस पर हमला बोला। दोपहर 11:00 बजे तक 11 किलोमीटर यात्रा पूरी करने के बाद राहुल गांधी ने काठगढ़ के क्षत्रिय कॉलेज में चार घंटे के लिए विश्राम किया। यहां सीएम, मंत्री और विधायकों के लिए ही एंट्री थी। 

 

यह भी पढ़ें

Breaking News!!