image

लोनी के विधुत विभाग का भ्रष्टाचारी चेहरा आया सामने, भ्रष्ट जेई को बचाने का प्रयास कर रहे रूप नगर अधिशासी अभियंता

सुशील श्रीवास्तव

गाजियाबाद। लोनी के राम पार्क बिजली घर के जेई उपेन्द्र यादव के भ्रष्टाचारी खेल में आया नया मोड़ सामने, सुनील कुमार अधिशासी अभियंता रूप नगर, कर रहे भ्रष्ट जेई को बचाने का प्रयास, सूत्रों के अनुसार जेई उपेन्द्र यादव एवं सुनील कुमार अधिशासी अभियंता रूप नगर का सपा गठबंधन के बड़े नेताओं से हैं संबंध तभी भाजपा सरकार इन भ्रष्ट अधिकारियों पर कार्यवाही करने में हैं विमर्श, जबकि उपेन्द्र यादव पर पूर्व में भी नाईपूरा बिजली घर में भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप में एफआईआर दर्ज हुई थी। मामले की जानकारी देते हुए प्रवासी विकास मंच के प्रदेश अध्यक्ष सुशील श्रीवास्तव ने बताया। लोनी के रामपार्क बिजली घर में कार्यरत जेई उपेंद्र यादव द्वारा अपने गुर्गों के साथ बिजली के नए कनेक्शन के नाम पर बड़ी अवैध वसूली के संबंध में, शिकायत 6 फरवरी 2023 को अधीक्षक अभियंता को उनके कार्यालय कोयल इन्क्लेव में दर्ज कराई गई थीं, जिसका जवाब 14 फरवरी को सुनील कुमार अधिशासी अभियंता रूप नगर द्वारा पहला जवाब दिया जाता हैं, कि उपभोक्ता के द्वारा गलत तरीके से बिजली कनेक्शन लिया गया हैं, जिसकी एफआईआर संबंधित चौकी में करवा दी गई है, जब सुनील कुमार से पूछ गया कि क्या आपके द्वारा यह जवाब निष्पक्ष तरीके से दिया गया है तो, उनके बोल लड़खड़ाने लगें और बात घुमाने का प्रयास करने लगें, उसी प्रकार 27 फरवरी को अधिशासी अभियंता सुनील कुमार अपने दूसरे जवाब में भी वही बात दोहराते हुए अपने जेई का बचाव किया। अब अपने आप सामने आता है विधुत विभाग के वरिष्ठ अधिकारी अधिशासी अभियंता सुनील कुमार द्वारा भ्रष्ट जेई उपेन्द्र यादव को बचाने का असली चेहरा।
अब विधुत विभाग के वरिष्ठ अधिकारी महोदय से पूछा जाए कि जब उपभोक्ता ने गलत तरीके से बिजली कनेक्शन लिया था, तो उसे सत्यापित करने उनका जेई उपेन्द्र यादव स्वयं अपनी टीम के साथ लोकेशन पर गए था, जिसका सबसे बड़ा प्रमाण हैं नए कनेक्शन जारी करते समय विधुत विभाग द्वारा दिया गया प्रमाण पत्र, जिसपर जेई उपेन्द्र यादव के हस्ताक्षर है। जब उपभोक्ता द्वारा गलत कनेक्शन लिए जाने पर उपभोक्ता के ऊपर एफआईआर दर्ज करा दी गई हैं, तो सोचिए जेई उपेन्द्र यादव के द्वारा कितने गलत तरीके से मीटर लगाए गए होंगे, इस आधार पर तो तत्काल जेई उपेंद्र यादव को विधुत विभाग की नोकरी से बर्खास्त करके अब तक जेल में होना चाहिए था परंतु पूरे विधुत विभाग के भ्रष्ट सिस्टम होने के कारण भाजपा सरकार नत्मस्तक है।

Post Views : 380

यह भी पढ़ें

Breaking News!!