image

उत्तर प्रदेश न्यूज पोर्टल एसोसिएशन की आगरा इकाई का गठन

डीके श्रीवास्तव

आगरा। न्यूज पोर्टल चलाने वाले संपादकों और रिपोर्टर्स की एक बैठक 17 मई, 2024 को संस्कृति भवन में हुई। बैठक में सर्वसम्मति से उत्तर प्रदेश न्यूज पोर्टल एसोसिएशन की आगरा इकाई का गठन किया गया। फिलहाल सर्वसम्मति से लाइव स्टोरी टाइम के संपादक और जनसंदेश टाइम्स के सलाहकार संपादक डॉ. भानु प्रताप सिंह को अध्यक्ष तथा मून ब्रेकिंग के संपादक प्रशांत कुलश्रेष्ठ को महासचिव नामित किया गया है। जिला कार्यकारिणी की घोषणा शीघ्र की जाएगी।

बैठक में बताया गया कि संगठन में सिर्फ न्यूज पोर्टल चलाने वाले संपादक और पत्रकार शामिल होंगे। जो पत्रकार साथी नया न्यूज पोर्टल शुरू करना चाहते हैं, उनकी भी मदद की जाएगी। इसके लिए शीतल सिंह और जतिन श्रीवास्तव से संपर्क किया जा सकता है। 
अवगत कराया गया कि अखबार की तरह न्यूज पोर्टल को भी सरकार विज्ञापन मुहैया कराती है। पत्रकारों को मान्यता भी मिलती है। पीआईबी ने इस बारे में नियमावली तैयार की है जो वेबसाइट पर उपलब्ध है। इसके लिए निर्धारित मानक पूरे करने होते हैं। इस बारे में जतिन श्रीवास्तव को दायित्व दिया गया कि वे अध्ययन कर विस्तार से सभी को जानकारी दें।

निर्णय किया गया कि डिजटल कौशल सुधार के लिए कार्यशालाएं आयोजित की जाएंगी। न्यूज वेबसाइट का एसईओ और एसएमओ होना चाहिए ताकि रीच बढ़े और की वर्ड डालने पर गूगल सर्च में आए। समाचारों की गुणवत्ता बढ़ाने पर भी चर्चा हुई। प्रिंट मीडिया अवसान की ओर है। ऐसे में डिजिटल मीडिया का सुनहरा भविष्य है।
यह विचार भी आया कि मीडिया मैनेजर पर्याप्त धनराशि लेकर प्रेसवार्ता कराते हैं। इसके साथ ही वे आयोजकों से पत्रकारों को लिफाफा या गिफ्ट देने के नाम पर भी अलग से पैसे लेते हैं। इस तरह के कार्यक्रम पूरी तरह से व्यक्तिगत प्रचार या व्यावसायिक होते हैं। जब विज्ञापन की बारी आती है तो सिर्फ प्रिंट मीडिया को दिया जाता है, डिजिटल मीडिया को नहीं। कई फोटो के साथ पूरा समाचार प्रकाशित करने वालों के हाथ में कुछ नहीं आता है। सामूहिक हित में ऐसे समाचार प्रकाशित करने या न करने के बारे में चिंतन किया गया। 
यह भी पता चला कि मीडिया मैनेजर्स जेबी पोर्टल और जेबी यूट्यूबर्स से मिलकर काम करते हैं, जिनकी कोई रीच नहीं है और न ही इनका नाम गूगल सर्च में दिखाई देता है। पत्रकारों को खाना खिलाने और 200 रुपये का लिफाफा देकर बेईमान सिद्ध करने का प्रयास किया जा रहा है। इस बारे में अलग से चर्चा की जाएगी ताकि वास्तविक न्यूज पोर्टल चलाने वालों के आर्थिक हित सुरक्षित रह सकें।

 सदस्यता शुल्क वार्षिक 500 रुपये और आजीवन 1000 रुपये तय किया गया। प्रोफेसर लवकुश मिश्र को विशेष आमंत्रित सदस्य बनाने का प्रस्ताव पारित हुआ।

बैठक में हिंदुस्तान वार्ता के धर्मेंद्र कुमार चौधरी, भारत टीवी के भूपेंद्र भारद्वाज, टाइम्स ग्रुप इंग्लिश के पीयूष शर्मा, बिंदु विस्तार के वीरेंद्र चौधरी, खबर प्रभात न्यूज के रवींद्र सिंह, बाबा न्यूज के मुनींद्र शंकर त्रिवेदी, एमबीटीवी न्यूज और मून ब्रेकिंग के प्रशांत कुलश्रेष्ठ, विनीत वर्मा, होशियार सिंह, विवेक सक्सेना, बिग भारत न्यूज के विवेक शर्मा, टीएन न्यूज 24 के प्रेम चौहान, एमजी न्यूज इंडिया के जतिन श्रीवास्तव और सचिन श्रीवास्तव ने महत्वपूर्ण सुझाव दिए। आगरा लीड के संपादक हरेश त्यागी, यूपी 18 न्यूज के संपादक शीतल सिंह और इंडिया समाचार 24 के संपादक धर्मेंद्र सिंह ने फोन पर सहमति दी।

Post Views : 115

यह भी पढ़ें

Breaking News!!