image

घर बनवाने जा रहे हैं तो जान लें कितना महंगा हुआ सरिया, बालू और मौरंग

घर बनवाने जा रहे हैं तो जान लें सरिया, मौरंग, बालू और गिट्टी के दाम फिर बढ़ गए हैं। करीब एक महीने के भीतर निर्माण सामग्री के दामों में बढ़ोतरी हुई है।

राजधानी में सरिया, मौरंग, बालू और गिट्टी के दाम फिर बढ़ गए हैं। करीब एक महीने के भीतर निर्माण सामग्री के दामों में हुई बढ़ोतरी से घर बनाना महंगा हो गया है। एक महीने पूर्व 65 रुपये किलो बिक रही सरिया 72 रुपये किलो हो गई है। वहीं मौरंग 65 रुपये से बढ़कर 75-80 रुपये प्रतिघन फीट हो गया है। इसी प्रकार बालू 30 रुपये से बढ़कर 45 रुपये प्रतिघन फीट हो गई है। हालांकि सीमेंट की 50 किलो की बोरी में 20 रुपये दाम कम हुए हैं। उत्तर प्रदेश सीमेंट व्यापार संघ के प्रदेश अध्यक्ष श्याम मूर्ति गुप्ता ने बताया कि जिला प्रशासन ने  ओवरलोडिंग पर रोक लगा दी है। पहले एक ट्रक में 1000-1100 घनफीट मौरंग आता था। अब 600-650 घनफीट आ रहा है। इससे मौरंग, बालू, गिट्टी के दाम बढ़े हैं। उन्होंने बताया कि बारिश में यदि खनन पर रोक लग गई तो आने वाले समय पर दाम और बढ़ जाएंगे। इसके अलावा सरिया के दाम फिर से बढ़ गए हैं। 
 
ईंट के दाम स्थिर, गिट्टी पांच रुपये महंगी
लखनऊ ईंट-भट्टा एसोसिएशन के महामंत्री मुकेश मोदी ने बताया कि पिछले दो महीने से ईंट के दाम स्थिर है। अभी ईंट 7800-8000 रुपये प्रति हजार है। उत्तर प्रदेश सीमेंट व्यापार संघ के महामंत्री मनीष मोदी ने बताया कि गिट्टी के दाम पांच रुपये प्रतिवर्ग फीट बढ़े हुए हैं। वर्तमान में 60 रुपये से बढ़कर 65 रुपये प्रतिवर्ग फीट में गिट्टी मिल रही है।
 
भवन निर्माण की लागत तीन लाख रुपये बढ़ी
रियल एस्टेट कारोबारी अनिरूद्ध निगम ने बताया कि यदि कोई एक हजार वर्गफीट भवन निर्माण कराना चाहता है तो उसे कम से कम तीन लाख रुपये का अतिरिक्त खर्च बढ़ गया है। एक महीने पहले भूतल का भवन निर्माण लगभग 10 लाख रुपये में हो जाता था। अब 13 लाख रुपये की लागत आयेगी। 
 
निर्माण सामग्री 
सामग्री     15 जून        12 जुलाई 
- सरिया   65 रुपये         72 रुपये किलो 
- बालू     30 रुपये          45 रुपये प्रतिघन फीट
- मौरंग     65 रुपये         75-80 रुपये प्रतिघन फीट
- गिट्टी      60 रुपये          65 रुपये प्रतिवर्ग फीट
- सीमेंट   380-410 रुपये     360-    400 रुपये (50 किलो की बोरी)
- ईंट       7500-8000 रुपये     7500-8000 रुपये प्रति हजार
 
लखनऊ में कहां से आता है
सीमेंट : रायपुर, टिकरिया (अमेठी), रायबरेली
बालू : अयोध्या, बहराइच
मौरंग : हमीरपुर, घाटमपुर, बांदा
गिट्टी: झांसी 
ईंट : लखनऊ के ग्रामीण इलाके के ईंट भट्टे
सरिया : दुर्गापुर (पश्चिम बंगाल), जमशेदपुर व कानपुर
 
लखनऊ में खपत

- सीमेंट 1.25 लाख बोरी प्रतिदिन 
- बालू 100 ट्रक प्रतिदिन
- मौरंग 150 ट्रक प्रतिदिन
- ईट 100 ट्रक प्रतिदिन
- सरिया 250 टन प्रतिदिन

यह भी पढ़ें

Breaking News!!