image

विश्व स्तनपान सप्ताह के अंतर्गत आयोजित हो रही विभिन्न गतिविधियां, माता बैठक में बताए स्तनपान के फायदे

इंडिया समाचार 24 - आगरा

आगरा। विश्व स्तनपान सप्ताह के अंतर्गत स्तनपान को लेकर जनपद में विभिन्न जागरुकता कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। मंगलवार को जनपद में शाहगंज नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र क्षेत्र के अंतर्गत माता बैठक का आयोजन किया गया। इसमें माताओं को स्तनपान के फायदों के बारे में बताया गया।

शाहगंज यूपीएचसी के डॉ. सौरभ ने बताया कि मां का दूध बच्चे के लिए सर्वोत्तम आहार है। मां के दूध शिशु के शारीरिक एवं मानसिक विकास के लिए अत्यंत आवश्यक है। यह शिशु को डायरिया, निमोनिया और कुपोषण से बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। उन्होंने कहा कि एक से सात अगस्त तक मनाए जाने वाले विश्व स्तनपान सप्ताह की थीम इस बार स्तनपान प्रोत्साहन- समर्थन एवं सहयोग रखी गई है। इसके तहत मंगलवार को माता बैठक में शीघ्र स्तनपान, केवल स्तनपान, नियमित टीकाकरण और साफ-सफाई के प्रति जागरुक किया गया। इस मौके पर यूनिसेफ की बीएमसी शायना परवीन, वर्ल्ज विजन से मोहितश, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सुमन सोलंकी मौजूद रहीं।

फतेहाबाद सीएचसी के अंतर्गत गांव गढ़ी किशन में बताया गया कि बच्चे को जन्म के एक घंटे के अंदर गाढ़ा पीला दूध पिलाना आवश्यक है। यह नवजात और मां दोनों के स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। इस अवसर पर यूनिसेफ के बीएमसी धर्मवीर सिंह, यूपीटीएसयू आईहैट के मुकीम, आशा संगिनी ऊषा वर्मा मौजूद रहे।
बैठक में शामिल दो माह के बच्चे की मां सोनी ने बताया कि आज हमें आशा के द्वारा स्तनपान के फायदे के बारे में बताया गया और कहा गया कि छह माह तक बच्चे को केवल स्तनपान कराना है, इसके अतिरिक्त पानी भी नहीं देना है।

स्तनपान के शिशु को लाभ
मां की त्वचा का संपर्क शिशु के तापमान को बनाए रखता है
दूध उतरने में सहायक
पहला गाढ़ा दूध अथवा कोलेस्ट्रम शिशु को बीमारियों से बचाता है
दस्त रोग, निमोनिया, कान व गले संक्रमण आदि का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है
शिशु और मां के बीच जुड़ाव रहता है
बौद्धिक स्तर में सुधार होता है
शिशु का समुचित विकास

Post Views : 590

यह भी पढ़ें

Breaking News!!