image

संजू सैमसन: आप लोगों को यह नहीं कह सकते कि आप ओपनर हैं या फिनिशर हैं...

संजू सैमसन ने टीम इंडिया में अपनी जगह को लेकर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि इन दिनों टीम में जगह बना पाना बेहद चुनौती भरा है क्योंकि प्रतिस्पर्धा बढ़ गई है। उन्होंने यह भी कहा कि आप खुद लिए कोई स्पॉट फिक्स नहीं कर सकते।

नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप टीम में संजू सैमसन को मौका नहीं मिला है। टीम के सेलेक्शन के बाद कुछ लोगों ने इस पर सवाल भी खड़े किए थे कि आखिर क्यों संजू सैमसन को मौका नहीं मिला। संजू सैमसन ने पीटीआइ से बात करते हुए कहा है कि पिछले कुछ वर्षों में जिस तरह की क्रिकेट उन्होंने खेली है उसको देखते हुए कोई उन्हें वन डायमेंशनल खिलाड़ी नहीं कह सकता। उनका मानना है कि टीम इंडिया में जगह बनाना अभी सबसे बड़ी चुनौती है क्योंकि टीम इंडिया में खिलाड़ियों की क्वालिटी दिन ब दिन बढ़ती जा रही है।

उन्होंन कहा कि मैंने पिछले कुछ सालों में किसी भी स्पॉट में बल्लेबाजी करने के लिए खुद को तैयार किया है और मुझे भरोसा है कि मैं किसी भी क्रम में बल्लेबाजी कर सकता हूं। सैमसन को भरोसा है कि सफल होने के लिए आपको फ्लेक्सिबल होना पड़ेगा। आप अपने लिए कोई स्पॉट फिक्स नहीं कर सकते हैं। आप लोगों को यह नहीं कह सकते हैं कि आप ओपनर हैं या फिनिशर हैं। पिछले 3-4 सालों में मैंने अलग-अलग रोल में बल्लेबाजी की है जो मेरे खेल में एक नए डायमेंशन को जोड़ता है।

jagran

संजू सैमसन ने अब तक टीम इंडिया के लिए 7 वनडे और 16 टी20 मैच खेले हैं। टीम में अपनी जगह को लेकर उन्होंने कहा कि टीम में जगह बना पाना मुश्किल है क्योंकि टीम में प्रतिस्पर्धा बहुत है। यहां तक कि जो खिलाड़ी खेल रहे हैं उनमें भी काफी प्रतिस्पर्धा है। जब ऐसी चीजें होती है तो आपको खुद पर ज्यादा फोकस करना चाहिए।

सैमसन फिलहाल न्यूजीलैंड ए के खिलाफ वनडे सीरीज में इंडिया ए का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब भी उन्हें मौका मिलता है वह अपना बेस्ट देने की कोशिश करते हैं। मैं खुद को चुनौती देता हूं। इंडिया ए का नेतृत्व करने पर उन्होंने कहा कि वह बहुत खुश हैं कि उन्हें यह मौका मिला।

 

यह भी पढ़ें

Breaking News!!