image

गौतम अडानी की कंपनी का बड़ा कमाल, लगाया 200 मीटर ऊंचा विंड टर्बाइन

एशिया के सबसे रईस शख्स गौतम अडानी का फोकस जिन कुछ सेक्टर पर सबसे ज्यादा है, उनमें रिन्यूएबल एनर्जी भी एक है। यही वजह है कि अडानी समूह समय के साथ अपना निवेश इस सेक्टर में बढ़ा रहा है।

गौतम अडानी (Gautam Adani) अपने बिजनेस को बहुत तेजी के साथ विस्तार दे रहे हैं। यही वजह है कि अडानी ग्रुप (Adani Group) नए-नए सेक्टर में अपनी किस्मत आजमा रहा है। एशिया के सबसे रईस शख्स गौतम अडानी का फोकस जिन कुछ सेक्टर पर सबसे ज्यादा है, उनमें रिन्यूएबल एनर्जी भी एक है। यही वजह है कि अडानी समूह समय के साथ अपना निवेश इस सेक्टर में बढ़ा रहा है। अडानी ग्रुप ने गुजरात के मुंद्रा में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी (Statue Of Unity) से भी ऊंची विंड टर्बाइन (Wind Turbine) लगाई है। इस एक विंड टर्बाइन से 4000 घरों में बिजली पहुंचाई जा सकती है। 

अडानी न्यू इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने गुरुवार को बताया है कि देश के सबसे बड़े विंड टर्बाइन जनरेटर को गुजरात के मुंद्रा में लगाया गया है। इसके ब्लेड जंबो जेट से भी बड़े हैं। यह विंड टर्बाइन अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड की सब्सिडियरी कंपनी मुंद्रा विंडटेक लिमिटेड ने लगाया है।

क्या है इसकी खासियत

200 मीटर लंबी इस विंड टर्बाइन के पास 5.2 मेगावॉट बिजली उत्पादन करने की क्षमता है, जिसे लगभग 4000 घरों में सप्लाई किया जा सकेगा। इसके ब्लेड्स 78 मीटर के हैं।  यह पावर के मामले में सबसे बड़ा विंड टर्बाइन है। हाल के साल में विंड टर्बाइन सेक्टर में तेजी से ग्रोथ देखी गई है। मुंद्रा में अडानी ग्रुप की तरफ से लगाए गए विंड टर्बाइन अपने आप में सबसे अलग है। इस मशीन को जर्मनी के विंड टू एनर्जी मॉडल पर डिवेलप किया गया है। बता दें, यह 3 मीटर प्रति सेकेंड की न्यूनतम स्पीड पर और 20 मीटर प्रति सेकेंड के अधिकतम स्पीड पर काम कर सकता है। 

मुंद्रा विंडटेक लिमिटेड के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर मिलिंद कुलकर्णी ने कहा, 'इस मॉडल को रिकॉर्ड 19 दिन में एसेंबल किया गया है। यह लगाया जा चुका है, अब हम सर्टिफिकेशन के लिए जाएंगे।' उन्होंने कहा, ‘यह मॉडल, एक नए मॉडल को डिवेलप करने के लिए काम आएगा। आने वाले समय में हम अपना खुद का ब्लेड बनाएंगे। Nacelle को एसेंबल करना हम पहले ही शुरू कर चुके हैं।'

 

यह भी पढ़ें

Breaking News!!