image

अमेरिका में भारतीय मूल की न्यूरोसाइंटिस्ट को मिला बड़ा अवॉर्ड, मिलेगी इतनी धनराशि

भारतीय मूल की न्यूरोसाइंटिस्ट अभिलाषा जोशी को अमेरिका में बड़ा अवॉर्ड मिला है. उन्हें सोसायटी ऑफ न्यूरोसाइंस ने उन्हें 'पीटर एंड पैट्रिशिया ग्रूबर इंटरनेशनल रिसर्च अवॉर्ड' से सम्मानित किया है.

भारतीय मूल की न्यूरोसाइंटिस्ट अभिलाषा जोशी को अमेरिका में बड़ा अवॉर्ड मिला है. उन्होंने सोसायटी ऑफ न्यूरोसाइंस ने सम्मानित किया है. वॉशिंगटन स्थित ये सोसायटी हर साल यंग न्यूरोसाइंटिस्ट को उनकी रिसर्च और खोज के लिए सम्मानित करती है.

अभिलाषा जोशी इस समय पुर्तगाल के लिस्बन में चंपालिमॉड सेंटर फॉर द अननोन में विजिटिंग रिसर्चर हैं. सोसायटी ऑफ न्यूरोसाइंस ने उन्हें 'पीटर एंड पैट्रिशिया ग्रूबर इंटरनेशनल रिसर्च अवॉर्ड' से सम्मानित किया है.

इस अवॉर्ड के साथ 25 हजार डॉलर की इनामी राशि मिलती है. साथ ही सोसायटी ऑफ न्यूरोसाइंस की सालाना मीटिंग में शामिल होने का मौका भी मिलता है. ये मीटिंग इसी हफ्ते होने वाली है.

भारत की रहने वालीं अभिलाषा जोशी ने इंग्लैंड की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट रिसर्च की है. यहां रहकर उन्होंने खास तरह के न्यूरॉन्स की पहचान की थी.

सोसायटी की ओर से जारी प्रेस रिलीज में बताया गया है कि अल्जाइमर जैसी बीमारियों में कॉग्निटिव और मोटर डेफिसिट आमतौर पर एकसाथ मौजूद होती हैं, और इनकी रिसर्च से पता चलता है कि ये अलग-अलग लक्षण जुड़े हो सकते हैं.

अभिलाषा जोशी के साथ-साथ इस अवॉर्ड से दो और न्यूरोसाइंटिस्ट को भी सम्मानित किया गया है.

अभिलाषा जोशी ने मोहाली के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च से बायोलॉजी में बैचलर और मास्टर्स डिग्री हासिल की है.

जोशी को अपने काम के लिए पहले भी कई सारे अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है. उन्हें 2018 में यूरोपियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से डीफिल इनोवेशन अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था.

 

Post Views : 241

यह भी पढ़ें

Breaking News!!