image

आंगनवाड़ी केंद्रों पर शून्य से पांच साल तक के बच्चों की सेहत की हुई जांच - बच्चों का मापा गया वजन और लंबाई

आगरा

आगरा। जनपद में गुरुवार को सभी आंगनवाड़ी केंद्रों पर स्वस्थ बालक-बालिका प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें शून्य से पांच वर्ष तक के बच्चों का वजन व लंबाई मापकर उनकी सेहत की जांच की गई।

जिला कार्यक्रम अधिकारी आदीश मिश्रा ने बताया कि पोषण माह के तहत हुई इस गतिविधि का उद्देश्य सुपोषित उत्तर प्रदेश की परिकल्पना को पूरा करना है। शून्य से पांच साल तक के बच्चों के पोषण स्तर में सुधार लाना, पोषण की महत्ता के प्रति जागरुकता बढ़ाना और एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा का वातावरण बनाकर बच्चों के अभिभावकों को जागरुरक करना है।

अर्बन सीडीपीओ राय साहब यादव ने बताया कि बच्चों का वजन व लंबाई मापने के बाद इसे आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा पोषण ट्रैकर एप पर फीड किया गया। अब स्वस्थ बालक व बालिका का चयन किया जाएगा। चिन्हित स्वस्थ बालक व बालिका को दो अक्टूबर को पुरस्कृत किया जाएगा। इस दौरान ग्राम स्तर पर ग्राम प्रधान, आशा, एएनएम और ग्राम वासियों द्वारा बच्चों के वजन और उनकी लंबाई मापने में सहयोग किया गया।

बिचपुरी ब्लॉक के अंगूठी आंगनवाड़ी केंद्र पर अपने बच्चों का वजन व लंबाई की माप कराने आए फरदीन खान ने बताया कि आंगनवाड़ी द्वारा उन्हें लगातार अपने बच्चों के खान-पान व सेहत का ध्यान रखने के लिए जागरुक किया जाता है। वह अपने बच्चों की सेहत और उनके खाने-पीने का विशेष ध्यान रखते हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास है कि दो अक्टूबर को उनके बच्चों को ही पुरस्कार मिलेगा।

यह भी पढ़ें

Breaking News!!