image

होली के पावन पर्व और महिला दिवस पर टेपा सम्मेलन का आयोजन

विनोद गुर्जर

काव्य मंजूषा साहित्य वल्लरी महू इकाई के तत्वाधान में टेपा सम्मेलन का आयोजन वरिष्ठ कवि श्री सुरेश अष्ठाना के निज निवास पर आयोजित हुआ।
कार्यक्रम का आधार स्तंभ संयोजन कवि श्री विनोद गुर्जर का रहा।
कार्यक्रम की शुरुआत मां सरस्वती के पूजन और वंदना से हुआ । 
इस अवसर पर कार्यक्रम की मुख्य अतिथि डॉ.रेखा मंडलोई का सम्मान सभी वरिष्ट साहित्यकारों द्वारा आपके द्वारा साहित्य के क्षेत्र में बिशेष उपलब्धियों पर संस्था प्रमुख  द्वारा किया गया एवं  उपस्थित महिला दिवस पर साथ ही साथ अन्य उपस्थित कवियत्रियों का सम्मान निशा अस्थाना एवं मंगला गुर्जर ने पुष्प गुच्छ प्रदान कर  किया।  टेपा सम्मेलन के शुरूआती क्षण सदैव स्मरणीय रहेंगे जब सभी कवियों ने परंपरागत टोपी धारण कर एक दूसरे के भाल पर गुलाल लगा गले मिल होली की शुकाकामनायें प्रेषित कीं।
कार्यक्रम का सफल संचालन इंदौर से पधारे कवि जितेन्द्र राज और कवि  पवन जोशी द्वारा किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित सभी कवियों ने हास्य व्यंग और महिला शक्ति के सम्मान में होली के उत्सव और महिला दिवस को काव्य की विविध शैलियों से अपनी अपनी रचनाओं द्वारा अभिव्यक्त किया।
कार्यक्रम में सहभागिता करने वाले कवि  डॉ विमल कुमार सक्सैना, पवन जोशी,
 सुखप्रीत सिंह "सुखी ",यश कौशल, अनुरुद्ध कुशवाहा, अनिल अहिरवार, पायल परदेशी , भगवान दास "तरंग"
 रमेश जैन "राही", राज लक्ष्मी मोहंती, दिलीप मिश्रा, रविन्द्र पंवार, राजेश शर्मा, दीपक जैसवानी उपस्थित रहें।
अंत में संस्था अध्यक्ष सुरेश चंद्र अस्थाना द्वारा पधारे सभी कवि भूषणों का आभार व्यक्त किया।

Post Views : 394

यह भी पढ़ें

Breaking News!!