image

आयुष्मान भव: अभियान से मिलेगा सेहत और पोषण का वरदान

डीके श्रीवास्तव

आगरा।आयुष्मान भव: अभियान सेहत और पोषण की दृष्टि से वरदान साबित होगा । इससे संचारी और गैर संचारी रोगों पर तो प्रहार होगा ही, साथ में मातृ शिशु स्वास्थ्य और पोषण पर जोर रहेगा । पांच अहम घटकों वाले इस अभियान का शुभारंभ देश की राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मु ने बुधवार को वर्चुअली किया । फतेहपुर शिकरी के विधायक बाबूलाल चौधरी और आगरा उत्तरी के विधायक पुरुषोत्तम खंडेलवाल ने जिला अस्पताल परिसर से अभियान के शुभारंभ का सजीव प्रसारण देखा । उन्होंने टीबी मरीजों को गोद लेकर पोषण और मानसिक संबल देने वाले 13 निक्षय मित्रों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित भी किया । विशेषज्ञों ने बताया कि इस अभियान के पांच घटक सेवा पखवाड़ा, आयुष्मान आपके द्वार, आयुष्मान मेला, आयुष्मान सभा और आयुष्मान ग्राम पंचायत या आयुष्मान अर्बन वार्ड हैं ।
 
इस मौके पर विधायक बाबूलाल चौधरी ने बताया कि विभिन्न स्वास्थ्य योजनाओं और सेवाओं के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए ग्राम/वार्ड स्तर पर  वीएचएसएनसी/नगरीय स्थानीय निकाय के नेतृत्व में दो अक्टूबर को आयुष्मान सभा का आयोजन किया जाएगा। आयुष्मान सभा में आयुष्मान कार्ड का वितरण किया जाएगा। विभिन्न राष्ट्रीय स्वास्थ्य योजनाओं से लाभ प्राप्त करने वाले लाभार्थियों की सूची भी प्रदर्शित की जाएगी। आयुष्मान सभा के जरिये विभिन्न स्वास्थ्य योजनाओं की जानकारी देने के साथ साथ बीमारियों के प्रति लोगों को जागरूक किया जाएगा ।
  
विधायक उत्तरी पुरुषोत्तम खंडेवाल ने बताया कि अभियान के तहत ही आयुष्मान मेला का प्रारंभ 17 सितंबर 2023 से किया जाएगा। इसका आयोजन समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं हेल्थ एंड वेलनेस  सेंटर्स पर किया जाना है। इसके अंतर्गत समस्त उपकेन्द्र स्तरीय हैल्थ एवं वेलनेस सेन्टर एवं शहरी हेल्थ एवं वेलनेस सेन्टर पर प्रत्येक शनिवार को स्वास्थ्य मेला का आयोजन किया जाना है। 
सीएमओ डॉ.अरुण कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र(ग्रामीण/शहरी) स्तरीय हैल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर पर साप्ताहिक मेले का आयोजन प्रत्येक शनिवार को किया जाएगा। सीएचसी-पीएचसी पर रविवार को आयोजित मेले में चक्रानुक्रम में मेडिकल कॉलेज के स्त्री रोग, बाल रोग, सर्जन, नेत्र और ईएनटी विशेषज्ञों की सेवाएं भी दी जाएंगी उन्होंने बताया कि अभियान के एक अन्य घटक के तहत आयुष्मान ग्राम के अंतर्गत आयुष्मान ग्राम पंचायतों और आयुष्मान वार्डों को सम्मानित किया जाएगा।  छह बिंदुओं में शत प्रतिशत सूचकांक वाले गांव या वार्ड को ही आयुष्मान गांव या आयुष्मान वार्ड घोषित किया जाएगा । इन बिंदुओं में मार्च 2024 तक पांच वर्ष से अधिक आयु के लाभार्थियों के बीच आयुष्मान कार्ड वितरण, आभा आईडी जेनरेशन, तीस या इससे अधिक उम्र के लोगों का गैर संचारी रोगों के लिए स्क्रीनिंग, प्रति हजार जनसंख्या पर एक वर्ष में कम से कम तीस लोगों की टीबी जांच और टीबी के सफल उपचार परिणाम 85 फीसदी से अधिक होना शामिल हैं।
  नोडल अधिकारी डॉ नंदन सिंह ने बताया कि 17 सितंबर से दो अक्टूबर तक अभियान के घटक के तौर पर सेवा  पखवाड़े का आयोजन किया जाएगा। इसमें स्वच्छ भारत अभियान,रक्तदान महादान और अंगदान के लिए संकल्प  को शामिल किया गया है।

उन्होंने बताया कि अभियान के एक अन्य घटक आयुष्मान मेलों का स्वास्थ्य और पोषण की दृष्टि से काफी महत्व है। इसमें शनिवारीय मेले हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर लगाए जाएंगे। प्रथम शनिवार को उच्च रक्तचाप, मधुमेह, मुंह, स्तन और गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर के मरीजों की स्क्रीनिंग की जाएगी । दूसरे शनिवार को टीबी, मलेरिया, डेंगू, कुष्ठ, फाइलेरिया जैसे संचारी रोगों के मरीजों की स्क्रीनिंग होगी और उनका इलाज करवाया जाएगा। तीसरे शनिवार को गर्भावस्था जांच, नियमित टीकाकरण व पोषण संबंधी सेवाएं दी जाएंगी । चौथे शनिवार को नेत्र देखभाल संबंधी सेवा घर के नजदीक ही दी जाएंगी ।

Post Views : 273

यह भी पढ़ें

Breaking News!!