image

स्वास्थ्य केद्रो पर मरीजो की देखभाल के लिए, चिकित्सा अधिकारियो को प्रशिक्षित किया गया

डीके श्रीवास्तव

आगरा। जलवायु परिवर्तन एवं मानव स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ पियूष जैन ने चिकित्सा अधिकारियो को प्रशिक्षित किया | प्रशिक्षण में लू प्रबंधन, हीट स्ट्रोक से बचाव, पर्यावरण की स्वच्छता के बिन्दुओ पर सत्र आयोजित किये गये तथा समस्त चिकित्सा संस्थानों/अस्पतालों और चिकित्सा इकाईयों पर आवश्यक औषधियो, इंट्राविनस फ्लूड्स, आइसपैकस, ओरल डीहाईड्रेशन साल्ट (ORS) की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता हो, चिकित्सा इकाईयों पर शुद्ध एवं शीतल जल की उपलब्धता हो, सामुदायिक स्वास्थ्य केद्रो पर 2 बेड एवं जिला स्तरीय चिकित्सालयों में 5 बेड हीट स्ट्रोक से प्रभावित मरीजो के लिए आरक्षित रखे जायेंगे | दिनांक 20.03.2024 को पैरामेडिकल कर्मियों को रिपोर्टिंग के विषय पर प्रशिक्षित किया जायेगा एवं दिनांक 22.03.2024 को मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में अन्तर्विभागीय प्रशिक्षण का आयोजन किया जायेगा। कार्यशाला को अपर निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डॉ चन्द्र शेखर, संयुक्त निदेशक डॉ ज्योत्सना भाटिया ने संबोधित करते हुए कहाँ कि प्रत्येक चिकित्सा अधिकारी ओ.पी.डी. में हीट स्ट्रोक से प्रभावित मरीजो की अलग से लाइन लिस्टिंग करें। जिला महिला चिकित्सालय की प्रमुख चिकित्सा अधीक्षिका डॉ रचना गुप्ता ने कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहा कि समय से कार्यशाला आयोजित की गयी है, अप्रैल से गर्मी की शुरुआत हो जाती है इससे लू से प्रभावित मरीजो की देखभाल के लिए सही स्ट्रैटजी बनाई जा सकेगी, कार्यशाला में आर.एच.एफ.पी.टी.सी. के प्रधानाचार्य डॉ अजय ओहरी, जिला कुष्ठ अधिकारी डॉ सी.एल. यादव, डॉ सलोनी, पंकज जायसवाल, सुधीर शर्मा, गजेन्द्र प्रताप, सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के चिकित्सा अधीक्षक एवं शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

Post Views : 85

यह भी पढ़ें

Breaking News!!