image

5 सेक्स स्कैंडल जिन्होंने राजनीति की दुनिया में मचाई थी खलबली, एक ने तो बराक ओबामा को राष्ट्रपति बनवा दिया

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को अपने एक करीबी नेता के सेक्स स्कैंडल में फंसने के कारण इस्तीफा देना पड़ा है। पर यह पहली घटना नहीं है, जब सेक्स स्कैंडल के कारण राजनीति की दुनिया में खलबली मची है। इससे पहले भी कई ऐसे मामले सामने आए, जिन्होंने राजनीति की तस्वीर को ही उलट-पलटकर रख दिया। जानें ऐसे ही पांच सेक्स स्कैंडल के बारे में...

  • दुनिया के कई देशों में सेक्स स्कैंडल के कारण गिर चुकी है सरकार
  • 2004 में अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के एक प्रबल उम्मीदवार को देना पड़ा था इस्तीफा
  • 1963 में सेक्स स्कैंडल के कारण गिर गई थी ब्रिटिश सरकार, अब बोरिस जॉनसन के साथ भी वही हुआ

लंदन: ब्रिटेन में एक सेक्स स्कैंडल के कारण बोरिस जॉनसन को प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा है। इस स्कैंडल से पीएम जॉनसन का कोई लेना-देना नहीं था, लेकिन आरोपी नेता को पार्टी में डिप्टी चीफ व्हिप का पद देना उनको भारी पड़ गया। बस बोरिस जॉनसन के इसी कदम से उनके मंत्रिमंडल में भगदड़ मच गई। पहले वित्त मंत्री ऋषि सुनक और स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद ने पद छोड़ा और उसके बाद इस्तीफों की लाइन लग गई। दबाव इतना बढ़ गया कि चंद घंटे पहले विरोध करने वाले मंत्री को बर्खास्त करने वाले बोरिस जॉनसन को अपना ही पद छोड़ने का ऐलान करना पड़ा। पर यह पहली घटना नहीं है, जब सेक्स स्कैंडल के कारण राजनीति की दुनिया में खलबली मची है। इससे पहले भी कई ऐसे मामले सामने आए, जिन्होंने राजनीति की तस्वीर को ही उलट-पलटकर रख दिया। जानें ऐसे ही पांच सेक्स स्कैंडल के बारे में...

एक सेक्स स्कैंडल ने बराक ओबामा को राष्ट्रपति बनवा दिया
2004 में एक युवा करिश्माई राजनेता अमेरिका का अगला राष्ट्रपति बनने की रेस में सबसे आगे था। इस नेता का नाम जैक रयान था, जो रिपब्लिकन पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति चुनाव के लिए प्रमुख उम्मीदवार थे। जैक रयान की प्रसिद्धि इतनी ज्यादा थी कि उनकी पार्टी में कोई भी नेता चुनौती देने को तैयार नहीं था। इस बीच उनकी पूर्व पत्नी और अभिनेत्री जेरी रयान ने खुलासा किया कि जैक ने उन्हें सेक्स क्लबों में भाग लेने के लिए दबाव डाला था और उन्हें सार्वजनिक रूप से कुछ भद्दे काम करने के लिए कहा था। न्यूयॉर्क, न्यू ऑरलियन्स और पेरिस में "स्विंगर्स" क्लबों में उन्होंने अपनी पत्नी को शामिल करवाया था। खुलासे के बाद, रयान 2004 के अमेरिकी सीनेट चुनाव से हट गए और उनके स्थान पर उम्मीदवार बने एलन कीज, बराक ओबामा से हार गए।2008 में भी ओबामा के एक प्रतिद्वंदी ने छोड़ा था मैदान
बराक ओबामा और उनकी पत्नी मिशेल को उनकी साफ-सुथरी छवि के लिए जाना जाता है। 2008 के राष्ट्रपति चुनाव के दौरान भी उनका एक प्रतिद्वंदी एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर्स के कारण मुकाबले से हट गया था। इस राजनेता का नाम जॉन एडवर्ड्स था। वह बराक ओबामा की डेमोक्रेटिक पार्टी से ही राष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन करने वाले थे। बाद में जॉन एडवर्ड्स ने दावेदारी को वापस ले लिया और बराक ओबामा का समर्थन कर दिया। इसके एक साल बाद दावा किया गया कि एडवर्ड्स का न केवल विवाहेतर संबंध था, बल्कि पूर्व प्रचारक रिएल हंटर के साथ एक बच्चे को भी जन्म दिया। खुलासे के समय उनकी पत्नी एलिजाबेथ बीमार थीं। 2010 के अंत में उनकी कैंसर से मृत्यु हो गई। एडवर्ड्स पर 2008 में इस मामले को छिपाने के लिए राजनीतिक चंदे में 1 मिलियन डॉलर तक का उपयोग करने का आरोप लगाया गया था।प्रोफुमो अफेयर ने ब्रिटेन में गिरा दी थी सरकार
1963 में प्रोफुमो अफेयर ने ब्रिटेन में हेरोल्ड मैकमिलन की कंजर्वेटिव सरकार को गिरा दिया था। तब आरोप लगे थे कि इस मामले के पीछे तत्कालीन सोवियत संघ का हाथ था। दरअसल, जॉन प्रोफुमो मैकमिलन सरकार में युद्ध मामलों के विदेश मंत्री थे। उनका 19 वर्षीय मॉडल क्रिस्टीन कीलर के साथ एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर था। प्रोफुमो ने हाउस ऑफ कॉमन्स को एक बयान में इस संबंध से इनकार किया, लेकिन हफ्तों बाद एक पुलिस जांच ने सच्चाई को उजागर कर दिया। जिसके बाद यह साबित हो गया कि मंत्री प्रोफुमो ने हाउस ऑफ कॉमन्स से झूठ बोला था। ऐसे में मैकमिलन की सरकार की विश्वसनीयता पर सवाल उठने लगे। इस मामले ने इतना तुल पकड़ा कि मैकमिलन ने बीमार स्वास्थ्य का हवाला देते हुए अक्टूबर 1963 में प्रधानमंत्री के रूप में इस्तीफा दे दिया। इसके बाद 1964 के आम चुनाव में सत्तारूढ़ कंजर्वेटिव की बुरी तरह हार हुई।
न्यूयॉर्क के बड़े कांग्रेसमैन का राजनीतिक करियर हुआ तबाह
हो सकता है कि वह एक घरेलू नाम न हो, लेकिन न्यूयॉर्क के कांग्रेसमैन एंथनी वेनर को सेक्स चैट केस में फंसने के बाद पद से इस्तीफा देना पड़ा था। उन्होंने गलती से अपने जननांगों की तस्वीरें अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट कर दी थी। एंथनी वेनर को सिएटल की एक कॉलेज छात्रा के साथ सेक्स चैट करने का दोषी पाया गया था। हालांकि उन्होंने शुरू में अपनी संलिप्तता से इनकार किया, लेकिन बाद में उन्होंने अपनी गलती को स्वीकार कर लिया था। उन्होंने कहा कि उन्होंने पिछले तीन वर्षों में कम से कम छह महिलाओं के साथ ऑंनलाइन सेक्स चैट किया था। वेनर की पत्नी कोई और नहीं बल्कि तत्कालीन अमेरिकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन की काफी करीबी थीं। डेमोक्रेट के रूप में सात बार जीत हासिल की और कभी भी 60 फीसदी से कम वोट प्राप्त नहीं किया।
ब्रिटेन का समलैंगिक सांसद हुआ था गिरफ्तार, पद से बर्खास्त किया गया
1960 के दशक की शुरुआत में ब्रिटेन में समलैंगिक संबंध अवैध थे। इसलिए जब यह आरोप लगाया गया कि लिबरल पार्टी के नेता जेरेमी थोर्प का किसी अन्य व्यक्ति के साथ यौन संबंध था, तो इस घोटाले ने वेस्टमिंस्टर को जड़ से हिला दिया। जेरेमी थोर्प का राजनीतिक करियर लगातार उनकी कामुकता की अफवाहों से घिरा हुआ था, इसलिए जब मॉडल नॉर्मन स्कॉट ने सांसद के साथ समलैंगिक संबंध रखने का दावा किया, तो लिबरल पार्टी के भीतर एक जांच शुरू हुई। जांच में पार्टी ने उन्हें बरी कर दिया, लेकिन बाद में उन्हें एक पुरुष मॉडल को मारने की साजिश रचने का आरोप लगाकर गिरफ्तार कर लिया गया। उन्हें 1979 में सभी आरोपों से बरी कर दिया गया था लेकिन आम चुनाव में पहले ही अपनी सीट खो चुके थे।
 

यह भी पढ़ें

Breaking News!!