image

डेंगू, मलेरिया से बचने के लिए अध्यापक स्कूली बच्चों को करेंगे जागरुक

आगरा

आगरा। बारिश के कारण पनपने वाले मच्छरों के कारण बढ़ते डेंगू, मलेरिया जैसे संचारी रोगों की रोकथाम के लिए एक बार फिर संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाया जाएगा। इसमें स्कूली बच्चों को डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया और दिमागी बुखार के बारे में बताया जाएगा। उन्हें संचारी रोगों से बचाव के लिए जागरुक किया जाएगा। इसके लिए शनिवार को बैप्टिस्ट इंटर कॉलेज में स्कूलों के प्राधानाध्यापकों का अभिमुखीकरण कार्यक्रम आयोजित किया गया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अरुण श्रीवास्तव ने बताया कि जनपद में एक से 31 अक्टूबर तक चलने वाले संचारी रोग नियंत्रण अभियान में मच्छर जनित रोगों से बचाव के लिए लोगों को जागरुक किया जाएगा। मच्छर जनित रोगों से प्रभावित क्षेत्रों का चिन्हांकन कर वहां पर स्वास्थ्य कैंप आयोजित किए जाएंगे। इसके साथ ही एंटी लार्वा का छिड़काव और फॉगिंग कराई जाएगी। वहीं लोगों को मच्छर जनित रोगों से बचाव के लिए जागरुक किया जाएगा।

अभिमुखीकरण कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला विद्यालय निरीक्षक मनोज कुमार ने की। बैठक में अपर *मुख्य चिकित्सा अधिकारी/ वेक्टर बोर्न डिजीज के नोडल अधिकारी डॉ. सुरेंद्र मोहन प्रजापति* ने बताया कि बारिश होने के बाद मच्छर जनित बीमारियां तेजी से फैलती हैं। इन्हें रोकने के लिए हमें समाज के सभी लोगों को इसके प्रति जागरुक करना होगा। स्कूल में पढ़ रहे बच्चे इस बारे में जागरुक होंगे तो वह अपने अभिभावकों को भी इस बारे में बताएंगे। इससे लोगों में मलेरिया, डेंगू जैसी वेक्टरबार्न बीमारियों की रोकथाम हो सकेगी। 

जिला मलेरिया अधिकारी नीरज कुमार* ने बताया कि एक अक्टूबर से शुरू होने वाले विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान में सफाई अभियान, जागरुकता अभियान, पानी को साफ करने का अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान आशा व आंगनवाड़ी कार्यकर्ता घर-घर जाकर दस्तक देंगी और घरों पर स्टीकर लगाकर परिवार जन को डेंगू, चिकिनगुनिया, मलेरिया जैसी खतरनाक बीमारी से बचाव के उपाय बताएंगी और जागरूक करेंगी। इस दौरान संचारी रोगों से बचाने के लिए दवा का छिड़काव भी कराया जाएगा। अभिमुखीकरण कार्यक्रम यूनिसेफ के डीएमसी अमृतांशु राज और राहुल कुलश्रेष्ठ का पूर्ण सहयोग रहा l

यह भी पढ़ें

Breaking News!!