image

शुरू होगा एक कदम सुपोषण की ओर अभियान - मातृ एवं बाल स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए किया जाएगा जागरुक

डीके श्रीवास्तव

मैनपुरी। जनपद में सात जून से मातृ एवं बाल स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए “एक कदम सुपोषण की ओर” अभियान चलाया जाएगा, जिसमें मातृ स्वास्थ्य के तहत महिलाओं को गर्भावस्था, प्रसवोपरांत बेहतर पोषण की जानकारी दी जाएगी और बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत भोजन संबंधी सलाह के साथ-साथ सूक्ष्म पोषक तत्व फोलिक एसिड, आयरन फोलिक एसिड एवं कैल्शियम की गोलियों की महत्ता के बारे में जानकारी दी जाएगी।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजीव राय ने बताया कि सात जून से छह जुलाई तक चलने वाले अभियान में प्रत्येक गर्भवती और धात्री महिलाओं को आयरन, कैल्शियम और फोलिक एसिड की उपलब्धता और दवाओं के सेवन के बारे में जानकारी दी जाएगी। इसके साथ-साथ प्रसव पूर्व जांच और समय से गोलियों के सेवन के लिए भी जागरूक किया जाएगा। धात्री महिलाओं को छह माह तक केवल स्तनपान कराने के संदर्भ में भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घर-घर जाकर जानकारी उपलब्ध कराएंगी।
एसीएमओ आरसीएच डॉ. संजीव राय बहादुर ने बताया कि प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस को विस्तारित करते हुए अब प्रत्येक महीने में 1,9, 16 व 24 तारीख को सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, उपकेंद्र हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर से लेकर जिला स्तरीय अस्पताल में भी गर्भवती महिला की प्रसव पूर्व जांच की जा रही है, ताकि मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य में सुधार लाया जा सके।
जिला मातृ स्वास्थ्य परामर्शदाता सचिन कुमार ने बताया कि अभियान के तहत मिलने वाली सेवा सभी स्वास्थ्य इकाइयों, ओपीडी,आईपीडी, ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण दिवस (वीएचएसएनडी), प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान (पीएमएसएमए) तथा प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान(पीएमएसएमए) एवं मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेला के माध्यम से भी दी जाएगी।

प्रभारी जिला स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी रवींद्र सिंह गौर ने बताया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पीएमएसएमए दिवस के दौरान अभियान को सफल बनाने के लिए सभी तैयारी कर ली गई है।

Post Views : 479

यह भी पढ़ें

Breaking News!!