image

दोस्त के सीने में उतारीं दो गोलियां, पुलिस के साथ घूमता रहा कातिल

ब्याज पर ली गई रकम न लौटानी पड़े, इसलिए दोस्त ने ही बैंककर्मी की हत्या कर दी। किसी को उस पर शक न हो इसलिए कातिल पुलिस के साथ ही घूमता रहा।

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में हुए बैंककर्मी हत्याकांड में कातिल कोई और नहीं, बल्कि दोस्त ही निकला। बैंककर्मी की हत्या करने के बाद आरोपी ने पुलिस को लाश के बारे में सूचना दी। इतना ही नहीं वो इस हत्याकांड में जांच कर रही पुलिस के साथ घूमता रहा, लेकिन उसकी चालाकी पुलिस के सामने बहुत समय तक नहीं टिक सकी। उसकी एक गलती ने पुलिस को ऐसा मौका दिया कि इस पूरे हत्याकांड की गुत्थी सुलझ गई। 

ये है मामला 

थाना बरहन में बैंककर्मी कोमल सिंह की कुछ दिन पूर्व हत्या कर दी गई थी। उसके दो गोलियां मारी गईं थी। लाश को सड़क किनारे फेंक दिया गया था। इस हत्याकांड को लेकर पुलिस जांच में जुटी हुई थी।  वहीं मृतक का दोस्त सूरज कुशवाह भी पुलिस के साथ था। उसने ही पुलिस को इस  हत्या और लाश के बारे में जानकारी दी थी। सूरज जिस तरह पुलिस को गुमराह कर रहा था, उससे शक उसी पर गहरा गया। पुलिस ने जब सूरज को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो इस पूरे मामले से पर्दा उठ गया। 

इसलिए की थी हत्या 

पुलिस ने बताया कि बैंककर्मी कोमल सिंह ने सूरज कुशवाह को ब्याज पर रकम दी थी। लंबे समय से वो ब्याज नहीं दे रहा था, इस वजह से ये रकम 1 लाख 20 हजार रुपये हो गई। कोमल सिंह को ये पैसे वापस न करने पड़ें, इसलिए सूरज कुशवाह ने उसके कत्ल की साजिश रची।

घूमता रहा पुलिस के साथ 

आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसने कोमल सिंह को दो गोलियों मारीं, जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस को उस पर शक न हो, इसलिए वो पुलिस के साथ लगातार घूमता रहा। पुलिस ने हत्यारोपी की निशानदेही पर कोमल सिंह का मोबाइल और हत्या में प्रयुक्त तमंचा भी बरामद कर लिया है। 

Post Views : 347

यह भी पढ़ें

Breaking News!!