image

रौशन होगी दिवाली, जरूरतमंदों तक पहुंचेगी खुशियों की सौगात

समाज सेवा के क्षेत्र में बड़ा नाम डॉक्टर विजय किशोर बंसल गरीबों के घर में दिवाली की खुशियां पहुंचाएंगे। दिवाली के अवसर पर वह समाज के उसे तब के के लिए सोच रहे हैं, जिनके बारे में कोई नहीं सोचता। वह हजारों गरीब और जरूरतमंदों को दिवाली के अवसर पर खुशियों का तोहफा देंगे।

ताजनगरी के वरिष्ठ उद्यमी डॉ विजय किशोर बंसल गरीब और जरूरतमंदों के लिए दिन-रात एक कर काम कर रहे हैं वह हर त्यौहार पर गरीबों के लिए खुशियों का तोहफा देते हैं रोशनी के त्योहार दिवाली पर वह शहर के विभिन्न क्षेत्रों में रहने वाले जरूरतमंदों को के जीवन में रोशनी बिखेरेंगे। 
इससे पहले भी समाज के विभिन्न वर्गों के लिए अपने और से मदद का पिटारा खोल चुके हैं।


बाबा से मिली समाज सेवा की सीख को बढ़ा रहे आगे 
डॉ. विजय किशोर बंसल ने बताया कि अपने बाबा रामबाबू बंसल से समाज सेवा और धार्मिक कार्यो में सहयोग की प्रेरणा विरासत में मिली। समाज के प्रति निस्वार्थ भाव सेवा और निष्ठा को देखते हुए ये उनकी 16वीं मानक उपाधि है। इससे पहले उन्हें वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स लन्दन ने भी गत वर्ष सम्मानित किया था।


स्कूल, वृद्धाश्रम खोले, कर रहे है जरुरतमंदों की सेवा 
डॉ. विजय किशोर बंसल ने बच्चों की शिक्षा में सुधार लाने के इरादे से वह राजस्थान के करौली में विद्यालय और वृद्धाश्रम के जरीए जरुरतमंदों की सेवा कर रहे हैं। मैनपुरी में एक स्कूल को गोद लेकर संचालित कर रहे हैं। विजय किशोर बंसल ने कोरोना त्रासदी में गरीब एवं असहाय लोगों के बीच भोजन के करीब 25 लाख पैकेट बांटने का रिकॉर्ड कायम किया था। लॉकडाउन के दौरान 70 दिन तक पुलिस एवं प्रशासन की मदद से भोजन के करीब 12.5 लाख परिवारों तक खाद्य सामग्री के पैकेट तक पहुंचाए 

16 डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित हो चुके हैं विजय किशोर बंसल
शहर के उद्योग जगत में अपनी विशिष्ट पहचान रखने वाले डॉ. विजय किशोर बंसल ने नया कीर्तिमान स्थापित किया है। अपने उद्योग प्रबंधन से देश, दुनिया में पहचान स्थापित करने वाले डॉ. बंसल 16 डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित हो चुके हैं। पिछले दिनों ही डॉ. बंसल को थेम्स इंटरनेशनल यूनीवर्सिटी ने उद्योग प्रबंधन के क्षेत्र में मानद उपाधि प्रदान की थी । उन्हें समाज के प्रति उदारता, सांस्कृतिक संवर्धन, समाज में सामाजिक समता- समरसता कायम रखने पर दी गयी थी।


दुनिया को शांति का संदेश देगा भारत

डॉ. विजय किशोर बंसल कहते हैं कि शांति का अर्थ केवल युद्ध न होना नहीं है। जब तक समाज में भूख, भय, भेदभाव, जातिभेद, पक्षपात, ऊंच-नीच, किसी भी तरह की हिंसा है, शांति नहीं मानी जा सकती है। जब तक जीवन में शांति नहीं, हम प्रगति नहीं कर सकते हैं। हजारों वर्षों तक भारत विश्व गुरु की पदवी पर रहा और दुनिया को शांति का संदेश देता रहा। दुनिया में केवल भारत है, जिसने अपनी सीमाओं के विस्तार के लिए किसी भी देश पर हमला नहीं किया। अपनी श्रेष्ठ सांस्कृतिक परंपरा के कारण भारत विश्व गुरु बना और पुनः उसी दिश में अग्रसर है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत फिर विश्व गुरु बनेगा।

पं. दीनदयाल उपाध्याय की अंत्योदय योजना को साकार किया

डॉ. विजय किशोर बंसल की सबसे अहम विशेषता यह है कि वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के महान विचारक पं. दीनदयाल उपाध्याय की अंत्योदय योजना को साकार कर रहे हैं। वह  नर सेवा नारायण सेवा के सिद्धांत के तहत काम करते हैं। उनके समाज के लिए गए कार्यों को गर्व के साथ याद किया जाता है। 


लोगों को खतरनाक बीमारी से बचाया
जब जिला अस्पताल में कुत्ता काटे के इंजेक्शन नहीं थे, तब हजारों एंटी रेबीज इंजेक्शन उपलब्ध कराए और लोगों को खतरनाक बीमारी से बचाया। 

25 संस्थाओं के ट्रस्टी पर मंच के आकर्षण से दूर

समाज में चाहे समाज सेवा हो या भारतीय संस्कृतियों का संवर्द्धन, प्रत्येक क्षेत्र में समाज के अंतिम पायदान पर खड़ी मानवता को सानिध्य प्रदान कर उसके हौसलों को पंख देने का कार्य भी कर रहे हैं। इसके विपरीत बड़े से बड़े मंच के आकर्षण से डॉ. बंसल दूर रहते हैं। 25 संस्थाओं के ट्रस्टी डॉ. विजय किशोर बंसल दिखावे की समाजसेवा से हमेशा दूर रह कर समाज के उद्धारक का कार्य कर रहे हैं। 


अब तक मिले अवॉर्ड
यूनाइटेड नेशन पीस काउंसिल का पीस एंबेसडर अवार्ड 2022
अमर उजाला कोरोना कर्मवीर सम्मान
न्यूयॉर्क सिटी की नसाउ काउंटी ‘प्रशस्ति-पत्र’
मदर टेरेसा ह्यूमैनिटी अवार्ड
फेस राष्ट्रीय गौरव अवार्ड
आनंद ऑर्गेनाइजेशन फॉर सोशल अवॉर्ड
लिटरोमा कोरोना वॉरियर
लाइव 24 ग्रुप से कोरोना वॉरियर
इंटरनेशनल अचीवर्स काउंसिल एंड पीस यूनिवर्सिटी अचीवर्स एक्सीलेंसी अवॉर्ड
फेस ग्रुप, भारत रत्न अवार्ड
हीरो ऑफ द सोसायटी (नव्य सृजन)
इंटरनेशनल यूनिसेफ काउंसिल ‘यूनिसेफ अवॉर्ड’
डॉ. अब्दुल कलाम अवॉर्ड
लॉयर्स विजन से कोरोना योद्धा सम्मान
फ्रेंड्स ऑफ गुड हेल्थ से इंटरनेशनल अम्बेसडर ऑफ ह्यूमैनिटी
इंटरनेशनल ह्यूमन राइट्स ‘ग्रेट वॉरियर ऑफ ह्यूमैनिटी’
द अमेरिकन किंग्स यूनिवर्सिटी ‘डॉक्टर ऑफ लेटर’
अंतर्राष्ट्रीय ताज रंग शिरोमणि सम्मान
 

Post Views : 309

यह भी पढ़ें

Breaking News!!