उत्तर प्रदेश

कंट्रोल रूम का कारगर नेटवर्क

इंडिया समाचार 24
डॉ दिलीप अग्निहोत्री

कोरोना आपदा राहत के अंतर्गत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूरे प्रदेश के लिए कार्य योजना बनाई थी। इसके प्रभावी संचालन हेतु उन्होने कंट्रोल रूम स्थापित किया था। योगी ने कुछ दिन पहले ही इसका उद्घाटन किया था। शुरुआत में ही इसने अपनी उपयोगिता प्रमाणित कर दी। योगी ने जितना आकलन किया था,उससे कहीं अलग यह कारगर साबित हो रहा है। इतना ही नहीं इसी तर्ज पर जिलों में भी कंट्रोल काम कर रहे है। सुदूर गांवों तक कोरोना आपदा प्रबंधन का नेटवर्क बन चुका है। उद्घाटन के अवसर पर योगी ने कहा था कि बिना किसी भेदभाव के हर जरूरतमंद तक आवश्यक सुविधाएं व शासन की योजनाओं का लाभ पहुंचाने में कन्ट्रोल रूम की बड़ी भूमिका होगी। उनका यह कथन चरितार्थ हो रहा है।
बहुत कम समय में एकीकृत कन्ट्रोल रूम के माध्यम से प्रदेश के सभी जनपदों को जोड़ने की योजना सफल रही। सभी जनपदों के कन्ट्रोल रूम से जुड़ा इन्टीग्रेटेड कन्ट्रोल रूम, प्रदेश में राहत कार्यों के तेजी से संचालन में सहायक सिद्ध हो रहा है। सभी जनपदों से जुड़ा यह वीडियो वाॅल युक्त एकीकृत आपदा नियन्त्रण केन्द्र है। इससे आपदा की स्थिति में जरूरतमंद व्यक्तियों तक त्वरित गति से सहायता पहुंचाना संभव हुआ है।
कन्ट्रोल रूम में प्रत्येक सूचनाओं का संकलन हो रहा है। इनका तेज गति से क्रियान्वयन भी किया जा रहा है। आमजन तक क्वारन्टीन वाॅर्ड, इन्स्टीट्यूशनल क्वारन्टीन आइसोलेशन वाॅर्ड, लेवल वन,टू व थ्री कोविड अस्पतालों की जानकारी पहुंचाई जा रही है। साथ ही जरूरतमंदों तक फूड पैकेट आदि पहुंचाने में कन्ट्रोल रूम उपयोगी साबित हो रहा है।

Live TV

GMaxMart.com

Our Visitor

1209292
Hits Today : 274