आगरा उत्तर प्रदेश शिक्षा

दयालबाग शिक्षण संस्थान में पांच दिवसीय ऑनलाइन फैकेल्टी डेवलपमेंट का संपादन

आगरा। दयालबाग शिक्षण संस्थान के गृह विज्ञान विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ चारू स्वामी के संचालन में पांच दिवसीय ऑनलाइन फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम के दूसरे दिन का संपादन तीन सत्रों में दिनांक 8 दिसंबर 2021 को हुआ। दूसरे दिन का प्रारंभ प्रथम सत्र में NITRA गाजियाबाद के डायरेक्टर, प्रोफेसर एम.एस. परमार जी द्वारा “अनकंवेंशनल सस्टेनेबल इको फाइबर” विषय पर चर्चा से हुआ। डॉक्टर परमार ने परंपरागत प्राकृतिक रेशे -निष्कर्षण विधियां, गुण एवं उपयोगिता को समझाते हुए अपरंपरागत प्राकृतिक रेशों -निष्कर्षण विधियां, गुण एवं उपयोगिता पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि प्राकृतिक रेशे जैसे कपास, जूट, रेशम के अतिरिक्त कुछ ऐसे भी रेशे हैं, जो सामान्य जनता की सोच से परे हैं। इन रेशों की श्रेणी में केले, मक्के, अनानास, भिंडी, गेहूं आदि से बनने वाले रेशों को रखा गया है जिन्हें आजकल वस्त्रों के निर्माण में अत्याधिक प्रयोग में लाए लाया जाएगा। दूसरे सत्र में NITRA की प्रधान वैज्ञानिक अधिकारी नेहा कपिल जी ने “रेशों, धागों, वस्त्रों, परिधानों के परिष्करण एवं पैकेजिंग हेतु गुणवत्ता के मापदंडों” पर चर्चा की। नेहा जी NITRA के पॉलीमर एवं तकनीकी टेक्सटाइल डिवीजन की अध्यक्ष भी है। नेहा जी ने बताया कि किसी परिधान की गुणवत्ता उसकी बनावट, कीमत के अतिरिक्त कुछ अनदेखे पहलुओं पर निर्भर करती है। यह पहलु उस परिधान को बनाने में लगे रेशों, धागों, उसकी सुंदरता बढ़ाने वाली ट्रिम और एक्सेसरीज़ के अतिरिक्त बनने की प्रक्रिया, परिष्करण की प्रक्रिया और पैकेजिंग पर निर्भर करती है। साथ ही साथ गुणवत्ता का परीक्षण किया जाता है जिसमें रेशों, धागों के संयोजन, भौतिक, रासायनिक तथा पर्यावरण सुरक्षा के मापदंडों का ध्यान रखा जाता है। पांच दिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम के दूसरे दिन का समापन डॉ अनु एच. गुप्ता, अध्यक्ष, फैशन प्रौद्योगिकी एवं व्यवसायिक विकास संस्थान एवं भूतपूर्व कार्यकर्ता, NIIFT के तीसरे सत्र से हुआ। डॉ. गुप्ता ने स्थायित्व की परिभाषा समझाते हुए सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स, दीर्घकालिक विकास के उपाय, 5 R’s – रीयूज, रीसाइकिल, रिड्यूस, रिफ्यूज एवं रिपरपज पर प्रकाश डाला। इसके पश्चात उन्होंने विभिन्न प्रकार के टेक्सटाइल वेस्ट, वेस्ट मैनेजमेंट, जीरो वेस्ट टेक्निक, दीर्घकालीन डिजाइन इत्यादि पर चर्चा की ।

Live TV

GMaxMart.com

Our Visitor

1351321
Hits Today : 5442