उत्तर प्रदेश लखनऊ

समग्र विकास की योजनाएं

डॉ दिलीप अग्निहोत्री

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विगत चार वर्षों से प्रदेश के समग्र विकास का प्रयास कर रहे है। इसके दृष्टिगत व्यापक योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि विकास की स्वीकृत योजनाओं में समग्रता छिपी होती है। सबका साथ और सबका विकास का भाव निहित होता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना पटरी व्यवसायियों के लिए एक अच्छी योजना है। जिसमें गरीब पटरी व्यवसायियों को मदद मिल रही है। उन्होंने कहा कि एक जनपद, एक उत्पाद योजना के तहत ठोस कार्ययोजना तैयार कर बैंकों से ऋण प्राप्त किया जा सकता है। बीआरडी मेडिकल कॉलेज अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस है। एम्स व फर्टिलाइजर संयंत्र का लोकार्पण माह अक्टूबर में प्रस्तावित है। बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं की दृष्टि से एम्स का निर्माण कराया गया है। मुख्यमंत्री ने गोरखपुर में एक सौ तेईस अवस्थापना विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। इनमें अड़तालीस परियोजनाओं का शिलान्यास तथा पचहत्तर परियोजनाओं का लोकार्पण सम्मिलित है। प्रदेश सरकार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के माध्यम से निःशुल्क खाद्यान्न उपलब्ध करा रही है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इसका लाभ हर पात्र जन को पहुंचाया जाए। हम सभी को निर्बाध रूप से इन योजनाओं का स्वागत करना चाहिए। कोरोना के कारण जिन बच्चों ने अपने माता पिता को खोया है,ऐसे बच्चों के कानूनी अभिभावक के बैंक खाते में उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत जल्द ही चार हजार रुपए दिए जाएंगे। निःशुल्क आधुनिक शिक्षा की व्यवस्था के साथ ही, कोरोना के कारण निराश्रित महिलाओं को पेंशन तथा उनकी योग्यता के अनुसार रोजगार दिया जाएगा। जिससे वह आत्मनिर्भर होकर रह सकें। योगी आदित्यनाथ टोक्यो ओलम्पिक में हिस्सा लेने वाले उत्तर प्रदेश के दस खिलाड़ियों से वर्चुअल संवाद किया। उत्साह वर्धन के साथ ही उनको शुभकामना दी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ओलम्पिक में एकल खेल में स्वर्ण पदक लाने वाले खिलाड़ियों को छह करोड़ रुपए,रजत पदक लाने वालों को चार करोड़ तथा कांस्य पदक लाने वाले खिलाड़ियों को दो करोड़ रुपए, प्रतिभाग करने वाले खिलाड़ियों को दस लाख रुपए तथा टीम खेल में स्वर्ण पदक लाने पर तीन करोड़ रुपए, रजत पदक लाने पर दो करोड़ रुपए, कांस्य पदक लाने पर एक करोड़ रुपए एवं प्रतिभाग करने पर दस लाख रुपए का सहयोग करती है। योगी ने कहा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा है कि अपने खिलाड़ियों को आगे बढ़ना चाहिए। अलग अलग फील्ड के प्रतिभाशाली लोगों को सरकार की ओर से एक मंच मिलना चाहिए। केन्द्र एवं राज्य सरकार इसी दिशा में प्रयास कर रही है। खेलों को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री ने खेलो इंडिया के माध्यम से देश एवं प्रदेश के खिलाड़ियों को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया है। प्रदेश सरकार ने इसे आगे बढ़ाया है।

Live TV

GMaxMart.com

Our Visitor

1258204
Hits Today : 3591